जाफराबाद के बं’दूक’बाज मो’हम्म’द शा’हरु’ख़ की पूरी कुंडली आई सामने, किया खुलासा ‘कहाँ से आई बं’दूक और क्यों की फा’यरिंग’

1896

दिल्ली के जाफराबाद में हिं’सा के दौरान पुलिस पर पि’स्ट’ल तानने वाला और फा’य’रिंग करने वाला शाहरुख़ अब पुलिस की गि’रफ्त में आ चुका है. उसे उत्तर प्रदेश के शामली से गि’र’फ्तार किया गया. जल्द ही उसे को’र्ट में पेश किया जाएगा. अभी पुलिस ने उस पि’स्ट’ल की रि’कव’री नहीं की है जिससे शाहरुख़ ने फा’यरिं’ग की थी. पूछताछ कर पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि उसने किसी सा’जिश के तहत फा’यरिं’ग की थी या अ’चान’क ये सब किया था.

शुरूआती पूछताछ में शाहरुख़ ने पुलिस को बताया कि पि’स्ट’ल सेमी ऑटोमैटिक है. 6.75 बोर का है. बिहार के मुंगेर से खरीदी गई थी. शाहरुख अपने घर में जुराब की फैक्ट्री चलाता है. बीए सेकेंड ईयर तक पढ़ाई करने वाला शाहरुख़ जिम जाने का शौक़ीन है और म्यूजिक विडियो भी बना रखा है. पूछताछ के दौरान उसने पुलिस को बताया कि हिं’सा के दौरान वो जोश में आ गया और उसने अपनी पि’स्टल से फा’य’रिंग कर दी.

क्रा’इम ब्रांच ने खुलासा किया है कि फा’यरिं’ग की घटना के बाद शाहरुख़ कुछ दिनों तक दिल्ली में ही रुका. वहां से वो जालंधर गया और फिर पंजाब से पंजाब बरेली होते हुए शामली पहुंचा. शामली में वो अपने एक दोस्त के पास रह रहा था. पुलिस का कहना है कि शाहरुख़ का पुराना कोई क्रि’मिन’ल रिकॉर्ड नहीं है लेकिन उसके पिता ड्र’ग्स के के’स में आ’रो’पी हैं.

हिं’सा के दौरान उसका फा’यरिं’ग करते हुए वीडियो खूब वायरल हुआ. शुरुआत में बताया गया कि वो CAA समर्थक है लेकिन बाद में पता चला कि वो CAA विरोधी है. मोहम्मद शाहरुख़ को सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने अनुराग मिश्रा साबित करने की कोशिश की. रवीश कुमार ने अपने प्राइम टाइम में अनुराग मिश्रा वाला शिगूफा छोड़ कर खूब कंफ्यूजन क्रियेट करने की कोशिश की लेकिन शाहरुख़ के पकड़े जाने के बाद सब कुछ साफ़ हो गया है. पुलिस शाहरुख़ और AAP के निलंबित भगोड़े पार्षद ताहिर हुसैन के बीच कनेक्शन की भी जांच कर रही है.