3 मई के बाद लॉक डाउन को लेकर पीएम मोदी का क्या होगा अगला कदम, जानिए ?

5608

कोरोना संकट और लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी कैबिनेट के साथ बैठक ले रहें हैं. उनकी इस बबैठक में गृह मन्त्री अमित शाह, रेल मंत्री पियूष गोयल, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और बिपिन रावत मौजूद हैं. इस बैठक को लेकर ये कयास लग रहें है की दूसरे लॉक डाउन को लेकर चर्चा हो रही हैं कि इस दूसरे लॉक डाउन में देश को कितना फर्क पड़ा है.

दूसरा लॉकडाउन 3 मई को समाप्त हो रहा हैं और अभी डेस्क के अलग अलग राज्यों से कोरोना मरीजो की खबर आ रही हैं. देश के अंदर कोरोना मरीजोर की संख्या 35 हज़ार पार कर चुकी हैं. ऐसे में सरकार की परीक्षा अभी खत्म नहीं हुए हैं उसको कोरोना मरीजो की बढती संख्या को हर हालत में रोकना हैं.

कोरोना से निपटने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी रणनीति में थोड़ा बदलाव किया है. उन्होंने देश के अदंर कुछ जगह पर लॉक डाउन का लॉक खोलने के लिए उसको पहले ही तीन जोन में बाँट दिया हैं. अब इसी पैमाने पर लॉक डाउन को खोला जायेगा. जहाँ पर ग्रीन जोन है वहन पर लोगों को बंदिशों में राहत दी अज्येगी. लेकिन ऑरेंज जोन वालों को कम राहत मिलेगी. पर रेड जोन वाले को उसी तरह रहना होगा जैसे लॉक डाउन में रहते थे. उनके लिए किसी प्रकार की कोई रियायत नहीं हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने लॉकडाउन खत्म होने की तारीख यानी 3 मई के बाद की लिस्ट जारी की है और उसमे बताया है कि कितने जिले किस जोन में हैं. 130 जिले रेड जोन, 284 ऑरेंज जोन और 319 जिले ग्रीन जोन में शामिल किए गए हैं. लेकिन मेट्रो शहर में अभी भी लॉक डाउन का पालन कड़ी के साथ किया जायेगा क्योकि वहां पर अभी करना फैलने का खतरा सबसे ज्यादा हैं इस वजह से उन शहर पर बंदिशे लगी रहेंगी.