पीएम नरेन्द्र मोदी ने प्रयागराज में बनाये तीन अनोखे वर्ल्ड रिकॉर्ड

1402

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार प्रयागराज पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार सुबह 10:30 बजे प्रयागराज के बमरौली एयरपोर्ट पहुंचे. यहां उनका स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया. प्रधानमंत्री मोदी केंद्र सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के कार्यक्रम में पहुंचे. यहां पर उन्होंने 26,791 दिव्यांगजन और बुजुर्गों को सहायता उप’करण बांटे और उनसे मुलाकात की. इसके साथ ही उन्होंने तीन वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाए हैं.

पहला व‌र्ल्ड रिकॉर्ड ‘हैंड ऑपरेटेड ट्राई साइकल की सबसे बड़ी परेड का है. इस परेड में 300 ट्राई साइकल की परेड कराई गई जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है.

दूसरा व‌र्ल्ड रेकॉर्ड प्रधानमंत्री की मौजूदगी में एक घंटे के भीतर सर्वाधिक दिव्यांगों को ‘हैंड ऑपरेटेड ट्राई साइकल वितरण का बना है’. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक घंटे में 600 ट्राई साइकल वितरण का रेकॉर्ड बनाया.

तीसरा वर्ल्ड रेकॉर्ड ‘वीलचेयर की सबसे लंबी कतार का है, जिसमें 400 वीलचेयर को एक लाइन में दो किमी लंबा रन कराया गया.

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम स्थल परेड ग्राउंड पहुंचकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम योगी के साथ परेड ग्राउंड में मौजूद दिव्यांगजन और बुजुर्गों से मुलाकात की. मोदी को अपने बीच देखकर दिव्यांग और बुजुर्ग काफी खुश नजर आए और तालियों की गड़’गड़ाह’ट के बीच मोदी का स्वागत किया.पीएम मोदी ने मंच से राजेश नाम के दिव्यांग को ‘मोटराइज्ड ट्राई साइकल देकर सहायता उपकरण वितरण की औ’पचा’रिक शुरुआत की. इसके अलावा प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित भी किया. उन्होंने कहा, ‘आपके प्रधान सेवक के तौर पर, मुझे हजारों दिव्यांगजनों और बुजुर्गों, वरिष्ठजनों की सेवा करने का अभी अवसर मिला है.

थोड़ी देर पहले यहां करीब 27 हजार साथियों को उपकरण दिए गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर इंसान को एक तहजीब के साथ लोगों को संबोधित करते है और लोगों को इज्ज़त देते है. ये गुण मोदी के अंदर काफी अच्छा है. पीएम मोदी ने ‘विकलांग’ शब्द की जगह उन्हें ‘दिव्यांग’ की संज्ञा दी है. यह पहली बार है जब एक साथ इतने हजार दिव्यांगजन को सहायता उपकरण वितरित किए जा रहे हैं. मोदी जी हमेशा से गरीब लोग और आम लोगों का पूरा ध्यान रखते है. ये एक खासियत मोदी के अंदर देखने को मिलती है.