भारत में टिकटोक बैन होने के बाद कितना नुकसान होगा चीनी कंपनी को जानिए !

चीन के साथ बढ़ रहे तनाव के बाद मोदी सरकार ने चीन पर डिजिटल स्ट्राइक किया है. मोदी सरकार ने भारत में टिक टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर बैन लगा दिया है. ख़ुफ़िया एजेंसियां लगातार सतर्क कर रही थी कि युद्ध जैसे माहौल के बीच चीन अपने ऐप की मदद से जासूसी कर सकता है और भारतीय नागरिकों के डाटा को हैक कर सकता है. इसके बाद भारत सरकार ने बड़ा फैसला लिया और टिक टॉक समेत 59 ऐप पर प्रतिबन्ध लगा दिया.

जानकारी के लिए बता दें गलवान घाटी में हुई झड़प के बाद से ही भारत सरकार एक्शन में है और चीन को हर दिन एक के बाद एक बड़ा झटका दिया जा रहा है. अब तक कई सारी चीनी कंपनियों के टेंडर सरकार रद्द करके झटका दे चुकी है. अब सरकार ने डिजिटल स्ट्राइक कर दी है.

भारत सरकार द्वारा उठाया गया ये कदम चीन कभी नही भूल पायेगा क्योंकि इनसे वो भारी कमाई करता था. भारत में एक मात्र टिकटोक बैन होने से ही चीन को करोड़ों रुपये का नुकसान होगा. टिकटोक जैसे ऐप्स के लिए भारत बहुत बड़ा बाजार था जिसके सहारे बाइट डांस जैसी कंपनियां फेसबुक को टक्कर देने का सपना देख रही थी. भारत में टिकटोक को 47 करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है.

Chinese President Xi Jinping adjusts his jacket as he arrives for a plenary session of China’s National People’s Congress (NPC) at the Great Hall of the People in Beijing, Tuesday, March 12, 2019. (AP Photo/Andy Wong)

गौरतलब है कि टिकटोक ने कुछ ही समय में भारत में अपनी पकड़ मजबूत कर ली थी. टिकटोक ने अक्टूबर से दिसंबर 2019 के बीच महज 3 महीने में ही 25 करोड़ रुपये का राजस्व किया. वहीं कंपनी ने इस साल जुलाई से सितंबर के बीच 100 करोड़ का लक्ष्य रखा था. टिकटोक पर मिलने वाले विज्ञापनों से कंपनी की कमाई में लगातार इजाफा हो रहा था अब भारत में इसके बैन होने से चीन को करोड़ों रुपये का नुकसान झेलना पड़ेगा.