लॉकडाउन के बीच सरकार ने इनकम टैक्स को लेकर जनता को दी बहुत बड़ी राहत, जल्दी जानिए

कोरोना महामारी के चलते पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है. सरकार जनता को लेकर एक के बाद एक बड़े कदम उठा रही है जिससे इस बीमारी फैलने से रोका जा सके. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा कदम उठाते हुए 21 दिन के लिए पूरे देश में लॉकडाउन किया था और लोगों से खुद अपील की थी वो अपने घरों में ही सुरक्षित रहें और नियमों का पालन करें. साथ ही आसपास के लोगों के संपर्क में न रहें.

जानकारी के लिए बता दें पूरे देश में चल रहे लॉकडाउन के चलते मोदी सरकार एक के बाद एक राहत जनता को दे रही है जिससे किसी भी व्यक्ति पर इसका असर न पड़े. कोरोना के चलते बहुत सी चीजें बंद हो चुकी हैं और अर्थव्यवस्था भी डगमगा गयी है लेकिन सरकार के लिए मुख्य चीज अपनी जनता की जान है जिसे जोखिम में नहीं डाला जा सकता और इसी बात को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन का फैसला लिया गया. अब सरकार ने जनता को एक और बड़ी राहत दी है.

सरकार ने मिडिल क्लास को बड़ी राहत देते हुए 5 लाख रूपये तक के इनकम टैक्स रिटर्न के तत्काल रिफंड का फैसला किया है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अपने ट्वीटर पर ट्वीट करते हुए बताया है कि ‘कोरोना के चलते पैदा हुई स्थितियों के मद्देनजर करदाताओं को राहत देने के लिए भारत सरकार ने 5 लाख रुपये तक के इनकम टैक्स रिफंड और जीएसटी एवं कस्टम रिफंड को तत्काल जारी करने का फैसला लिया है.’ सरकार के इस कदम से देश के 14 लाख करदाताओं को तत्काल लाभ मिलेगा.

गौरतलब है कि जनता की परेशानियों को ध्यान में रखते हुए सरकार लगातार राहत दे रही है क्योंकि इस मुश्किल समय में हर कोई परेशान है. नौकरी जाने या फिर सैलरी में कटौती के संकट से जूझ रहे लोगों के लिए सरकार का ये कदम बड़ी राहत बन सकता है. दरअसल पूरे साल की कमाई, इन्वेस्टमेंट और उसपर काटे गये टैक्स के कैलकुलेशन के आधार पर आयकर विभाग की तरफ से ITR रिफंड जारी किया जाता है. टैक्स रिटर्न के प्रोसेस के बाद आयकरदाताओं के खाते में इसे ट्रान्सफर कर दिया जाता है.