पीएम मोदी के VVIP हेलीकॉप्टर के लिए अमेरिका से इंफ्रा-रेड प्रोटेक्शन सिस्टम खरीदेगा भारत, खासियत जानकर यकीन न होगा

1815

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प दो दिवसीय दौरे के लिए भारत आ रहे हैं. उनके भारत में आने से पहले तैयारियां काफी जोरों-शोरों से चल रही हैं. अपनी पहली भारत यात्रा के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प को भारत आकर कई बड़े समझौते कर सकते हैं. वो भारत में अंबानी सहित तमाम हस्तियों से मिलेंगे. मोदी सरकार ने ट्रम्प की सुरक्षा के ऐसे ख़ास इंतजाम किये हैं जिससे परिंदा भी पर नहीं मार पाए. ट्रम्प के ये दौरा रक्षा सौदे को लेकर भी ख़ास माना जा रहा है.

जानकारी के लिए बता दें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ मोदी सरकार 3 बिलियन डॉलर के रक्षा पैकेज की डील कर सकती है जिसमें सबसे ख़ास चीज पीएम मोदी के वीवीआईपी हेलीकाप्टर के लिए इन्फ्रा-रेड प्रोटेक्शन सिस्टम माना जा रहा है. कहा जा रहा है ट्रम्प की इस यात्रा के दौरान भारत यह डील फाइनल कर सकता है जोकि पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए बेहद ख़ास होगी.

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस्तेमाल किये जाने वाला प्लेन बोइंग-777 वीआईपी विमान की सुरक्षा के लिए सरकार दो एलएआईआरसीएम सिस्टम खरीदेगी. अमेरिका द्वारा विकसित किया गया ये सिस्टम धीमी गति से चलने वाले बड़े जेट विमानों को सतह से कंधे से हवा में मार करने वाली मिसाइलों से बचाने के लिए बनाया गया है ,जिसे सरकार खरीदकर पीएम की सुरक्षा में इस्तेमाल करेगी.

गौरतलब है कि इस सिस्टम की सबसे ख़ास बात ये है कि ये इंफ्रा रेड कॉम्पोनेन्ट एसएएम का पता लगाता और अपने इंफ्रा रेड सिग्नल के माध्यम से मिसाइल को जाम कर देता है. इतना ही यह सारा काम स्वचलित रूप से हो जाता है. इसी के साथ प्लेन चालक दल को इस बारे में सूचित हो जाता है कि सिस्टम ने अभी क्या किया है.