सिंधिया की राह पर चल पड़ी रायबरेली से विधायक अदिति सिंह, क्या कांग्रेस को देंगी बड़ा झटका?

कांग्रेस पार्टी पिछले काफी समय से एक के बाद एक बड़ा झटका झेल रही है. केंद्र में जबसे बीजेपी की सरकार आई है कांग्रेस की मुश्किलें तभी से बढ़ गयी हैं. मध्यप्रदेश में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे सिंधिया ने पार्टी छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया था और सूबे में कांग्रेस की सरकार गिर गयी थी. सिंधिया के बीजेपी में जाने के पीछे की वजह आपसी कलह थी.

जानकारी के लिए बता दें बीजेपी का दामन थामने से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना ट्वीटर प्रोफाइल से INC हटा दिया था और बायो बदला था. उन्होंने पार्टी छोड़ने के पहले ही संकेत दे दिए थे. सिंधिया के ट्वीटर से INC हटने के बाद मध्यप्रदेश में बड़ा सियासी उलटफेर हुआ और कमलनाथ सरकार गिर गयी. अब उन्ही की राह पर एक और विधायक चल पड़ी हैं.

दरअसल उत्तरप्रदेश की रायबरेली सीट से विधायक अदिति सिंह अब सिंधिया की राह पर चल पड़ी हैं. उन्होंने अपनी प्रोफाइल से INC हटा दिया है. जिसके बाद ट्वीटर ने भी उनके अकाउंट से ब्लू टिक हटा दिया है. लॉकडाउन के दौरान यूपी में कांग्रेस और बीजेपी के बीच काफी समय तक चली बस पॉलिटिक्स की अदिति सिंह ने कड़ी आलोचना की थी. इस मामले में उन्होंने योगी सरकार का समर्थन किया.

गौरतलब है कि अदिति सिंह ने पार्टी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया था कि ‘आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत, एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 ऑटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई.’ वह पिछले काफी समय से कांग्रेस विरोधी गतिविधियों में शामिल रही हैं. जिसके चलते पार्टी ने भी उनसे कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया था. अब देखना ये है कि वह आगे का क्या रास्ता अपनाती हैं. क्या वो भी सिंधिया की तरह कांग्रेस को दे सकती हैं ये बड़ा झटका?