रेल मंत्री का एलान, इन चार शहरों को जोड़ने वाले ट्रैक पर शुरू हो रहा है काम

2118

15 अगस्त को लालकिले से भाषण के दौरान जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रेल मंत्रालय का जिक्र किया तो खुद रेल मंत्री भी अपनी ख़ुशी नही रोक पाए. हालाँकि पंद्रह अगस्त बीत जाने के बाद अब रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीटर के जरिये एक बड़ी घोषणा की है. पीयूष गोयल ने ट्विट कर जानकारी देते हुए बताया कि भारत के सबसे व्यस्तम रूट में से एक दिल्ली-हावड़ा के बीच में नया रेलमार्ग बनाया जाएगा. इस पर ट्रेन 160 किमी प्रति घंटा की गति से दौड़ेगी. इससे फायदा ये होगा कि अब दिल्ली से कोलकाता (Train Route) तक का सफर सिर्फ 12 घंटे में तय होगा.

दरअसल दिल्ली से हावड़ा की दूरी 1525 किमी है. जिसे तय करने पर 17 घंटे से अधिक का वक्त लगता है. ऐसे में इस समय को कम करने के लिए रेल मंत्री ने घोषणा करते हुए बताया कि दिल्ली-हावड़ा के बीच में नया रेलमार्ग बनाया जाएगा. यह रेललाइन दिल्ली, पश्चिम बंगल, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड के लिये वरदान साबित होगी. जिसमें बीच में कानपुर और लखनऊ रूट भी शामिल होंगे. हालाँकि अनुमान के मुताबिक़ इस काम को पूरा करने में चार का वक्त लग सकता है.

दिल्ली-मुंबई और दिल्ली कोलकाता रूट पर 160 की स्पीड में ट्रेन चलने के बाद रेलवे की योजना पूरे गोल्‍डन क्वाडिलेट्रल और उसके डायगोनल पर ट्रेनों को 160 की स्पीड में चलाने की है. मतलब दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई को आपस में जोड़ने वाले ट्रैक अधिकतम स्पीड 160 कर दी जाएगी. खास बात ये है कि गोल्डन क्वाडिलेट्रल और उसके डायगोनल पर रेलवे के महज 16 फीसदी ट्रैक बिछे हैं, लेकिन इन रूट्स पर रेलवे के 52 लाख मुसाफिर सफर करते हैं.

यहाँ आपको बता दें कि इस बीच रेलवे के चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्स ने 24 कोच की ट्रेन को 160 किलोमीटर की रफ़्तार से पटरी पर दौड़ाने वाले इंजन का भी सफल ट्रायल कर लिया है. आने वाले दिनों में भारतीय रेल में सफ़र करना आरामदायक और मज़ेदान होने वाला है.