केरल में हथिनी की जा-न जाने पर भड़की भाजपा नेता मेनका गाँधी और राहुल गाँधी से कह दी इतनी बड़ी बात

केरल में गर्भवती हथिनी को धोखे से प’टाखे खिला कर मा’र डा’लने की अ’मानवी’य घटना ने आम लोगों के साथ साथ सरकारों को भी हिला कर रख दिया. इस घटना से पूरे देश में रोष व्याप्त है. लोग दो’षियों को स’ख्त से स’ख्त स’जा देने की मांग कर रहे हैं. केंद्र सरकार ने भी इस दुखद और अ’मानवी’य घटना पर संज्ञान लिया है. इस घटना को पर्यावरण मंत्रालय ने भी गंभीरता से लिया है और घटना की पूरी रिपोर्ट मांगी है. वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि जो लोग भी इसमें दो’षी होंगे, उनके खिलाफ कड़ी का-र्रवाई की जाएगी. पर्यावरण मंत्रालय ने इसपर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

जानकारी के लिए बता दें केरल में हथिनी के साथ हुई इस घ-टना के बाद भाजपा सांसद मेनका गाँधी ने भी अपनी प्रतिक्रया दी है. उन्होंने हथिनी की मौ-त को ह-त्या बताया है और कहा है कि मल्लापुरम ऐसी घटनाओं के लिए कु-ख्यात है. इसी के साथ मेनका गाँधी ने अपने भतीजे और केरल से वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गाँधी पर भी जमकर निशाना साधा है.

मेनका गाँधी ने राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि वन सचिव को हटा दिया जाना चाहिए साथ ही वन्य जीव संरक्षण मंत्री को भी इस्तीफा देना चाहिए, उन्होंने कहा राहुल गाँधी उस क्षेत्र से हैं उन्होंने कार्रवाई क्यों की अभी तक? उनके इस सवाल के बाद राहुल गाँधी की बोलती बंद हो गयी है. दरअसल खाने के तलाश के एक हथिनी शहर की तरफ आ गयी थी. जिसे किसी ने अनन्नास में पटाखा रख कर दे दिया था. जिससे उसकी जा-न चली गयी.

गौरतलब है कि मेनका गाँधी ने कहा कि ‘ये ह-त्या है, मल्लापुरम ऐसी घटनाओं के लिए कु-ख्यात है. यह देश का सबसे हिं-सक राज्य है. यहां लोग सड़कों पर जहर फेंक देते हैं जिससे 300 से 400 पक्षी और कुत्ते एक साथ म-र जाएं. केरल में हर तीसरे दिन एक हाथी को मा-र दिया जाता है. केरल सरकार ने मल्लापुरम मामले में अभी तक कोई का-र्रवाई नहीं की है. ऐसा लगता है, वो डरे हुए हैं. भारत में हाथियों की संख्या वैसे भी लगातार घटती जा रही है. अब इनकी संख्या 20,000 से भी कम हो गई है.’