तबलीगी जमात के मौलाना साद के दो रिश्तेदार निकले कोरोना पॉजिटिव, मरकज में हुए थे शामिल

776

तबलीगी जमात ने पूर्व से लेकर पश्चिम और उत्तर से लेकर दक्षिण तक कोरोना के केसों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी कर दी. जिसक नतीजा ये हुआ कि लॉकडाउन को 19 दिन और आगे बढ़ाना पड़ा. मरकज़ में शामिल हुए जमातियों का अब भी कोरोना पॉजिटिव होने का सिलसिला जारी है. बुधवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर ने उस वक़्त हडकंप मच गाया जब तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद के दो रिश्तेदार कोरोना पॉजिटिव निकले. दोनों मरकज के इस्लामिक कार्यक्रम में शामिल हुए थे.

सहारनपुर के डीएम अखिलेश सिंह के मुताबिक, मौलाना साद के दो रिश्तेदार कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके बाद मंडी इलाके के मुफ्ती एरिया को पूरी तरह से सील कर दिया गया है, ताकि ये खतरा ज्यादा ना बढ़ सके. इलाके के आठ लोगों को क्वारंटीन किया गया है. उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना के 727 केस सामने आये हैं. उनमे से अकेले 428 केस मरकज़ से जुड़े हुए हैं.

आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कहा है कि तबलीगी जमात के कारण यूपी में मामले बढ़े हैं, नहीं तो यहां पर मामले सीमित रहते. इकोनोमिक्स टाइम्स के साथ बातचीत में योगी आदित्यनाथ ने कहा राज्य में जितने भी कोरोना पॉजिटिव मामले मिले हैं, उनमें से करीब दो तिहाई तबलीगी जमात के लोगों के संपर्क में आने से हुए हैं. इस मामले में सबसे बड़े दोषी मरकज से जुड़े लोग हैं, जिन्होंने इतनी बड़ी संख्या में लोगों को वहां छिपा रखा था. इससे ज्यादा अति तो उनका कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इलाज न कराना है.