विदेश से मरकज के कार्यक्रम में शामिल होने आये 1890 जमातियों पर लिया गया ये बड़ा एक्शन

कोरोना के लगातार बढ़ रहे प्रकोप के चलते लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया गया है. पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए पहले तो लॉकडाउन के मायने बताये और फिर इसे आगे बढ़ाना ही सही समझा. पीएम मोदी ने आगे कहा कि अगर लॉकडाउन को न जारी किया गया होता तो स्थिति और भी बढ़ा रूप ले सकती थी.

जानकारी के लिए बता दें भारत में लगातार बढ़ रहे कोरोना के अधिकतर पॉजिटिव मरीजों में तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोग हैं. सरकार कई बार इन लोगों से अपील कर चुकी है कि दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात में शामिल हुए लोग सामने आ जाएँ और अपनी जाँच करवा लें जिससे बाकी लोगों में इस बीमारी को फैलने से रोका जा सके. इसके बावजूद भी लोग छिपे बैठे हुए हैं और देशभर की अलग-अलग मस्जिदों में तबलीगी जमात के लोग मिल रहे हैं.

दरअसल दिल्ली के इस कार्यक्रम में शामिल होने के बाद अब कोरोना के चलते तबलीगी जमात से जुड़े लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में फ़ैल गये हैं. जिसके बाद से ही भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है. इसी बीच अब इन जमात के लोगों से जुड़ी एक बड़ी खबर आ रही है जिसे जानने के बाद मरकज से जुड़े लोगों की नींद उड़ जाएगी.

गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने विदेश से आये 1890 जमातियों पर क्राइम ब्रांच द्वारा बड़ा एक्शन लिया गया है. विदेश से आये इन जमातियों के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया गया है जिससे अब इनका बचना मुश्किल होगा. सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि ये सभी वीजा नियमों का उलंघन करके धार्मिक गतिविधियों में शामिल हुए थे. अब क्राइम ब्रांच की टीम लोकेशन के आधार पर जमातियों की तलाश कर रही है, अब इनका बचना मुश्किल है.