दिल्ली : सादे कपड़ों में जामिया के छात्रों की पि’टाई करने वाले व्यक्ति की सच्चाई आ गयी सामने

4088

दिल्ली में हो रहे नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है. आ’ग जनी, पथ’राव, उप’द्रव सब हो रहा है इस प्रदर्शन कि आड़ में. इसी बीच कई तरह के अफवाह भी उडाये जा रहे है. इसी बीच एक अफवाह के रूप में दो तस्वीर सोशल मीडिया पर सामने आई! साथ में एक सन्देश लिखा हुआ था कि दिल्ली के छात्रों की पि’टाई करता सिविल ड्रेस में लाल रंग वाला व्यक्ति ABVP का छात्र है? क्या ये सच है? इसका जवाब कुछ समय पहले तक किसी के पास नही था . लोग इसी को सच बता रहे थे.

दरअसल इतना ही नही इस सन्देश के साथ एक फेसबुक प्रोफाइल भी शेयर की जा रही थी. यह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) का सदस्य है जिसका नाम भरत शर्मा है. हालाँकि अब सच्चाई सामने आ गयी है और सच्चाई जानने के बाद ही आप इस निष्कर्ष पर निकल पायेंगे कि गलत कौन है? इसके साथ एक तस्वीर में और दावा किया जा रहा है कि छात्रों को मा’रता ये वही युवक है जिसमें लाठिया बरसाईं.

हालाँकि सच्चाई कुछ और ही है. नवभारत टाइम्स के फैक्ट चेक में इस बात की पुष्टि हुई है कि सारे वर्दी में लाठी लेकर खड़ा व्यक्ति दिल्ली पुलिस का जवान है. सिविल ड्रेस पर पुलिस गेअर पहना शख्स दिल्ली पुलिस का कॉन्स्टेबल है का नाम अरविंद है.अब सवाल तो ये भी पुछा गया कि आखिर जो वो दिल्ली पुलसी का जवान है तो उसने वर्दी क्यों नही पहनी. इसका जवाब है कि ये स्पेशल टीम अक्सर लोगों के बीच में रहती है. इसलिए ये वर्दी नही पहनते. पुलिस की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट का हिस्सा हैं. अरविन्द दिल्ली में ‘ऐंटी ऑटो थेफ्ट यूनिट’ का हिस्सा है.

DCP चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि विडियो में दिख रहा शख्स दिल्ली पुलिस का जवान ही है और उन्हें सादे कपड़ों में रहने के लिए कहा गया था. इसके साथ आपको ये भी बता देना चाहते हैं कि अरविन्द वो नही है, जिसे जामिया के छात्रों को लात मारते दिखाया है वो कोई और है.