अमेरिका ने कोरोना वायरस को लेकर किया है ऐसा दावा कि चीन की सभी चाल धरी रह जायेंगी

कोरोना का कहर हर दिन बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है कि जबकि पिछले कई महीनों से पूरे देश में लॉकडाउन चल रहा है इसके बावजूद भी भारत में मरीजों की संख्या जबरदस्त बढ़ रही है. भारत में पिछले 2 दिनों में रिकॉर्ड तोड़ ढाई हजार से ज्यादा मरीज हर दिन बढ़ें हैं जोकि सरकार के लिए चिता का विषय हैं. वहीँ अमेरिका में भी चीन के वुहान शहर से फैले इस वायरस ने कोहराम मचा रखा है.

जानकारी के लिए बता दें चीन के वुहान शहर से फैले इस वायरस ने पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा हाहाकार अमेरिका में ही मचाया है. अमेरिका में अब तक 10 लाख से ज्यादा मरीजों की संख्या हो चुकी है और हजारों लोग अपनी जान दे रहे हैं. अमेरिका इस वायरस के लिए लगातार चीन को जिम्मेदार ठहरा रहा है और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार नहीं बल्कि कई बार ये कह चुके हैं कि इस वायरस को चीन ने ही फैलाया है.

राष्ट्रपति ट्रंप कह चुके हैं कि हमारी एजेंसियां इस वायरस की जाँच करने में लगी हुई हैं. अगर ये वायरस चीन ने जानबूझकर फैलाया होगा तो इसके लिए चीन को अंजाम भुगतना पड़ेगा. वहीँ इसी बीच अमेरिका के विदेश सचिव माइक पोम्पियों ने रविवार को चीन को लेकर बड़ा दावा किया है. उन्होंने कहा है कि हमारे पास इस बात के काफी सबूत हैं कि कोरोना वायरस चीन के वुहान लैब से ही पैदा हुआ था. उन्होंने इस वायरस से निपटने के लिए चीन के रवैये की आलोचना भी की. उन्होंने बातचीत में ये साफ नही किया है कि चीन ने इस वायरस को जानबूझकर फैलाया है या नही.

गौरतलब है कि पॉमपियो ने कहा है कि चीन का इतिहास रहा है कि दुनिया में इंफेक्शन फैलाने और कम स्टैण्डर्ड की लैब चलाने का, उन्होंने दावा किया है कि चीन ने जिस तरह इस वायरस पर पर्दा डाला इससे बड़ा खतरा हो सकता है. चीन ने अगर ये वायरस जानकर फैलाया होगा तो अमेरिका इस हरकत की सजा जरूर भुगतनी पड़ेगी.