कोरोना के क’हर से मचा हा’हाकार, पंजाब के इस जिले में दी कोरोना ने द’स्तक

93

आज पूरा विश्व एक भ’यंकर म’हामारी से जूझ रहा है. जिसकी वजह से लाखों लोग कोरोना वायरस जैसी महामारी की च’पेट में आ गए है. वही भारत में भी यह आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. जिसकी वजह से देशभर में एक अलग ही माहौल पैदा हो गया है. कोरोना वायरस से जं’ग जीतने के लिए डॉक्टर्स, नर्स और पुलिसकर्मी सभी साथ मिल कर काम कर रहे है ताकि देश को जल्द से जल्द कोरोना से मु’क्त किया जा सके.

वही तरन तारन जिले से कोरोना के 5 पॉजि’टिव लोगो का मा’मला सामने आया है. दरअसल महाराष्ट्र के नांदेड़ से पंजाब लौटे 8 श्रद्धालुओं के कोरोना पॉ’जिटिव होने से ह’डकंप मच गया है. पंजाब के तरन तारन ग्रीन जोन जिले में अभी तक एक भी कोरोना के मरीज नहीं थे. लेकिन आशं’का जताई जा रही है ये सभी लोग अपने निजी वाहनों से आये है. हालाँकि पंजाब सरकार ने सभी लोगो की कोरोना जांच के आदेश दे दिए है और सभी को 14 दिनों के लिए सरकारी क्वारंटी’न में रखा जायेगा.

इसके अलावा सरकार ने 80 लग्जरी बसों की सुविधा की गयी थी जो पंजाब के लिए सोमवार रात रवाना हो गयी है. बता दें नांदेड़ से लौटने वाले 8 कोरोना मरीजों में से पांच तरन तारन के सुरसिंह गांव से हैं जबकि तीन कपूरथला के फगवाड़ा से हैं. तरनतारन में नांदेड़ से लौटे श्रद्धालुओं की सुरसिंह अस्पताल में स्क्री’निंग भी हुई थी और उनमें कोई लक्ष’ण सामने नहीं आए थे.

वही प्रशासन ने सुरसिंह गांव और लाहुका को कंटेनमेंट जोन घो’षित कर दिया है और एंट्री और एग्जिट पॉइंट सी’ल कर दिए हैं. इसके अलावा डेप्युटी कमिश्नर प्रदीप सबरवाल ने बताया कि प्रशासन मरीजों के इलाज के लिए व्यवस्था कर रहा है और साथ ही वे किस-किस के संपर्क में आए इसका पता लगाया जा रहा है. जाहिर है कोरोना वायरस अपनी दुगनी रफ़्तार से फैलता जा रहा है जिसके बचाव के लिए सरकार द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे है. ताकि इस म’हामारी से अधिक से अधिक लोगो को बचाया जा सके.