कोरोना की मा’र झेल रहा ये राज्य कर रहा जून में ही स्कूल खोलने की तैयारी

113

आज से देश में लॉकडाउन 5.0 शुरू हो गया है. जिसके बाद से केंद्र की तरफ से जारी की गयी गाइडलाइन्स के बाद से ही सभी राज्य सरकारों ने भी अपने अपने राज्यों में लोगो को राहत देते हुए कुछ विशेष छूट दी है. लेकिन इन छूट के साथ ही सोशल डिस्टें’सिंग के नि’यमों का पा’लन करने की अपी’ल की गयी है.

वही लॉक डाउन में ज्यादातर चीज़े खोलने की अ’नुमति दी गयी है. लेकिन स्कूल, कॉलेज को जून के महीने में खोलने की अनु’मति नहीं मिली है. लेकिन एक राज्य ऐसा है जो कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभा’वित होने के बाद भी जून के महीने में ही स्कूल खोने की तैयारी कर रहा है. बता दें महाराष्ट्र सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी बच्चों की शिक्षा का रास्ता नहीं रोक सकती.  नया शैक्षणिक सत्र 2020-21 जून से ही शुरू किया जाना चाहिए। इस मामले में महाराष्ट्र पूरे देश के लिए मिसा’ल बनेगा.

इसके अलावा महाराष्ट्र शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ और शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सीएम से बात की. जिसमें कहा गया कि राज्य के दूर’स्थ क्षेत्रों जहां इंटर’नेट की सुविधा नहीं है और जो कोरोना वायरस की चपे’ट में नहीं हैं, वहां सोशल डि’स्टेंसिंग के साथ स्कूल खोले जाने चाहिए. लेकिन जहां स्कूल खोलने में दिक्क’त हो, वहां ऑनलाइन शिक्षा का विक’ल्प चुना जाना चाहिए.

इसके अलावा CM उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिक्षा एक जरू’रत है, जिसे रोका नहीं जा सकता। प्रायो’गिक तौर पर शिक्षा विभाग गूगल के प्लेटफॉर्म्स का इस्ते’माल शुरू कर सकता है साथ ही जिन स्कूलों को क्वारं’टीन सेंटर के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है.  उन्हें पहले अच्छी तरह सैनि’टाइज और डिसइ’न्फेक्ट किया जाएगा. उसके बाद ही उन स्कूलों में बच्चों को प्रवे’श दिया जाए.

जाहिर है महारष्ट्र में कोरोना का कह’र सबसे ज्यादा फैला हुआ है. ऐसे में सरकार ने स्कूल खोलने का फैसला लेकर अभिभा’वकों के लिए चिं’ता को बढ़ा दिया है.