महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, उद्धव सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

597

कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में जारी है. आये दिन कोरोना वायरस से संक्रमित नए नए मामले सामने आ रहे है. भारत में कोरोना मामले में पीड़ितों की संख्या 1400 के करीब पहुच गयी है. हालातों को देखते हुए सरकार ने 21 दिन के लिए लॉक डाउन किया है. जिसके चलते लोगो से अपील की गयी है कि वो अपने घरो में ही रहे बाहर न निकले तबी इस संक्रमण से बचा जा सकता है. इसके साथ साथ सरकार ने कई कड़े कदम भी उठाये है ताकि लोगो को इस महामारी से बचाना जा सके.

वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र में CM उद्धव ठाकरे ने भी कोरोना के चलते बड़ा फैसला लिया है. CM उद्धव ठाकरे ने बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री से लेकर अन्य सरकारी कर्मचारियों की सैलरी में से कटौती की जाएगी. दरअसल भारत में सबसे ज्यादा हालत महाराष्ट्र में ही ख़राब है. महाराष्ट्र में 240  के करीब मामले कोरोना वायरस के सामने आये है. बता दें मुख्यमंत्री, मंत्री और विधायकों की सैलरी से 60 फीसदी तक की कटौती की जाएगी. ए और बी श्रेणी के कर्मचारियों की सैलरी से 50 फीसदी और सी श्रेणी के कर्मचारियों की सैलरी में 25 फीसदी तक कटौती की जाएगी. वहीं दूसरी तरफ सरकार ने डी क्लास के कर्मचारियों को अलग रखा है और उनकी सैलरी से कोई कटौती नहीं करने का फैसला लिया है.

गौरतलब है महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले सामने आये है वही 10 लोगो की मौत भी महाराष्ट्र में कोरोना की वजह से हुई है. जिसके चलते अब महाराष्ट्र सरकार ने यह फैसला लिया है ताकि इस मुश्किल घड़ी में लोगो तक मदद पहुंचायी जा सके. दरअसल 21 दिनों तक लॉक डाउन होने के बाद सारे काम काज ठप पड़े है प्राइवेट और सरकारी सेक्टर भी बंद है सिर्फ वही चालू है. जिनमे जरुरी कामकाज चलता है.