कल से शुरू हो रही है घरेलू उड़ाने, लेकिन इन राज्यों ने लगाया अड़ंगा, सस्पेंस बरक़रार

800

देशभर में लॉकडाउन की वजह से सभी इं’टरनेशनल और डोमे’स्टिक फ्लाइट सभी बंद है. जिसके बाद केंद्र सरकार ने 25 मई से सभी डो’मेस्टिक फ्लाइट के संचा’लन की अनु’मति दे दी है. जिसके बाद अब सोमवार से सभी डोमेस्टि’क फ्लाइट उड़ान भरने के लिए तैयार है. जिसके लिए दिए गए दिशा’निर्देश का पालन करना अनिवा’र्य होगा.

बता दें कर्नाटक, केरल समेत कुछ राज्यों ने नयी गाइडला’इन्स जारी की है. वहीं अब महाराष्ट्र सरकार ने भी घरे’लू उड़ा’नों की अ’नुमति दे दी है. लेकिन 25 मई से महाराष्ट्र में फ्लाइट्स उड़ान भरेंगी या नहीं इस पर अभी भी सस्पेंस बना हुआ है. दरअसल महाराष्ट्र सरकार का कहना है. कि राज्य में अभी कोरोना की वजह से हालात काफी ज्यादा गं’भीर है.

ऐसे में राज्य सरकार को कई सारी तैयारी करने की जरूरत है. सरकार का कहना है कि उड़ाने शुरू करने से पहले महाराष्ट्र की स्थिति का जायजा लेना होगा. हम भी हवाई यात्रा की शुरुआत करना चाहते हैं लेकिन किस तरह से यात्री एयरपोर्ट के अदंर दाखिल होंगे, किस तरह से एयरपोर्ट का स्टाफ काम करेगा, इन सब की जांच की जाएगी.

वही छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से ट्वीट कर लिखा गया है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नागरिक उ’ड्डयन राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने लिखा कि घरे’लू उड़ान शुरू करने से संक्र’मण फैलने की सं’भावना से इन’कार नहीं किया जा सकता. कोविड-19 महामारी के रो’कथाम तथा संक्र’मण से बचाव की दृ’ष्टि से नागरिक उ’ड्डयन मंत्रालय को प्रभा’वी उ’पायों एवं दि’शा नि’र्देशों अं’तर्गत ही उड़ान संचालन करना चाहिए. राज्यों को प्रत्येक उड़ान की जानकारी और यात्रियों का विस्तृ’त वि’वरण उपलब्ध कराया जाना चाहिए. हवाई यात्रा करने वालों को 14 दिन क्वा’रनटीन केवल राज्य सरकार द्वारा सं’चालित एवं पेड क्वा’रनटीन पर रहना अनिवा’र्य किया जाए और इसकी जानकारी यात्रियों को दी जाए.

वही उड़ान के संचालन को लेकर कुछ राज्यों में भी सस्पें’स बना हुआ है. जिसमें झारखंड, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में विमानों की आवा’जाही शुरू किए जाने को लेकर अभी कोई निर्ण’य सामने नहीं आया है. गौरतलब है कोरोना वायरस की चपे’ट में सबसे ज्यादा महाराष्ट्र है. जहाँ पर कोरोना से सं’क्रमित कई सारे माम’ले सामने आये है.