पालघर की घ’टना पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने तोड़ी चुप्पी, कहा ‘आ’ग लगाने और भ’ड़काने वालों…’

2839

महाराष्ट्र के पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना ने सभी को दहला दिया है. जिसके बाद अब महाराष्ट्र सरकार सभी के निशाने पर आ गयी है. वही केंद्र सरकार ने भी इस मामले पर उद्धव सरकार से जवाब माँगा है. दरअसल एक तरफ पूरा देश कोरोना वायरस जैसी भयंकर महामारी से जूझ रहा है. दूसरी तरफ महाराष्ट्र सी इतनी दर्दनाक खबर आने के बाद सभी का दिल दहल सा गया है.

वही दूसरी तरफ उद्धव सरकार ने इस मामले पर प्रेस कांफ्रेस करते हुए जवाब देते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार किसी भी दोषी को नहीं छोड़ेगी, लोग इस मसले को भड़काने की कोशिश ना करें. इसके अलावा उन्होंने कहा कि ये हिंदू-मुस्लिम जैसा कोई मामला नहीं है. मेरी इस मामले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी बात हुई है. हर किसी को इस बारे में समझाया गया है कि ये धर्म से जुड़ा मामला नहीं है, लेकिन जो भी सोशल मीडिया के जरिए आ’ग लगाने और मामला भ’ड़काने की कोशिश करेगा उसपर कड़ा एक्शन लिया जाएगा.

इसके अलावा ठाकरे ने कहा कि पालघर के जिस इलाके में यह घटना हुई है वहां कुछ दिनों से चोरों की अफवाह फैली हुई थी. जिसकी वजह से गाँव के लोगो को ग़लतफ़हमी हो गयी और उन्होंने हमला कर दिया. लेकिन ग़लतफ़हमी होने कि वजह से किसी को भी नहीं छोड़ा जायेगा. सभी के खिलाफ कार्यवाई की जाएगी. जाहिर है पालघर में हुई दर्दनाक घटना के बाद से अब सोशल मीडिया पर भी लोग जमकर इसकी निंदा कर रहे है. और उद्धव सरकार से सवाल कर रहे है.