मध्य प्रदेश के सि’यासी घ’मासान के बीच सुप्रीम कोर्ट के सवाल पर कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने दिया ये जवाब

1141

मध्य प्रदेश में सि’यासी उठक पटक चालू है. वही कमलनाथ सरकार की मुश्कि’ले भी कम होने का नाम नहीं ले रही है. दरअसल कमलनाथ सरकार के ऊपर सं’कट मंडरा रहा है. कमंनाथ सरकार के 22 विधायकों के इ’स्तीफे के बाद सरकार की हा’लत ख़’राब हो गयी. जिसके बाद उसका सत्ता में बने रहना भी मु’श्किल दिखाई दे रहा है. इसी के बीच पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ सरकार आमने सामने है.

दरअसल शिवराज सिंह चौहान ने राज्यपाल के सामने प्र’स्ताव रखा था कि 16 मार्च को फ्लोर टेस्ट करवाया जाये लेकिन राज्यपाल ने इसकी तारीक आगे बढ़ा दी और 26 मार्च का समय दिया इसे के साथ विधायकों को नि’यमों का पा’लन करने की बात कही. जिसके बाद शिवराज सिंह ने SC में याचि’का दा’यर कर दी.

जिस पर आज कार्यवाई में SC के जज ने पूछा कि 22 में से कितने विधायकों के इस्ती’फे स्वीकार किये गए है. और जब स्पीकर ने 6 विधायकों के इस्ती’फे स्वीकार कर लिए है तो बाकी के बारे में भी तो सोचा होगा. जिस पर अभिषेक मनु सिघंवी ने कहा कि उन 6 विधायकों के पास मंत्रालय थे इसलिए उनके इस्ती’फे को स्वीकार किया गया है.

दरअसल फ्लोर टेस्ट को लेकर शिवराज सिंह चौहान ने SC में अ’पील की थी. कि जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट करवाया जाये वही दूसरी तरफ राज्यपाल और कमलनाथ सरकार के बीच अभी भी चिट्टी के द्वारा बातचीत चालू है. जिसके बाद अब SC के द्वारा इस मा’मले पर क्या फैसला होता है यह तो तभी पता चलेगा जब फ्लोर टेस्ट के लिए SC की तरफ से कोई आदे’श आता है या नहीं लेकिन एक बात तो साफ़ है. कमलनाथ सरकार के ऊपर से इतनी जल्दी सं’कट के बादल नहीं हटने वाले है वहीं. ज्योतिरादित्य ने भी कांग्रेस का दा’मन छोड़ दिया है.