लखनऊ में दिन दहाड़े ब’मबारी से मची अफरा-तफरी

1520

नवाबों का शहर लखनऊ यू तो किसकी पहचान का मोहताज नहीं हैं. UP का नाम आते ही लोगों के दिमाग में सबसे पहला नाम लखनऊ का ही आता हैं. UP की राजधानी कहे जाने वाला शहर लोगों के बीच अपनी अलग ही पहचान बनाये हुए हैं. लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं देश में जिन्होंने लखनऊ शहर को नु’कसान पहुचनें की कोशिश की. बता दें लखनऊ शहर के वजीरगंज कचहरी में देशी ब’म से ह’मला हुआ जिसमें कई वकील घा’यल हो गए. जिनकों उपचार के लिए तुरंत अस्पताल में भेज दिया गया.

ह’मले के बाद कचहरी के आस पास अफरा तफरी मच गयी. इसी के साथ 2 जिंदा ब’म भी मिले. बता दें यह ह’मला  बार असोसिएशन के अधिकारी पर किया गया था, जिसमें वो बच गए. दरअसल जिला के वकील संजीव लोधी को ब’म से उड़ाने की कोशिश की गयी थी. जिसमें पुलिस ने बताया कि संजीव लोधी बालबाल बच गए. पुलिस के मुताबिक ह’मला दो पक्षों के बीच आपसी म’तभेद की वजह से हुआ था. ह’मले में कुछ वकील भी घा’यल हो गये. जिनको उपचार के लिए भेज दिया. साथ ही ह’मले की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच गयी. जिसके बाद पुलिस ने बताया कि ह’मले में किसका हाथ हैं इसकी जांच पड़ताल की जा रही हैं.

ह’मले के बाद पुलिस ने अपने ब’यान में कहा कि जिस अधिकारी पर ह’मला किया गया हैं. वो बार असोसिएशन के जॉइंट सेंक्रटरी हैं, और ब’म से ह’मला संजीव लोधी के दफ्तर के बाहर किया गया. जिसमें एक ब’म फट गया जबकि दो जिं’दा ब’मों को ज’ब्त कर लिया गया. दरअसल पुलिस के मुताबिक दो पक्षों के बीच आपस में मतभेद होने की वजह से यह ह’मला हुआ है. वहीं इसे बार असोसिएशन के सेंक्रटरी जितेन्द्र यादव के बीच मतभेद को लेकर भी इसे ह’मले से जोड़ा जा रहा हैं और कहा जा रहा हैं यह ह’मला भी इनके (जितेन्द्र यादव) और इनके लोगों के द्वारा किया गया हैं.