लॉकडाउन-4 में इन जिलो को नहीं मिलेगी किसी भी तरह की रियायत,जानिए कौन है वो जिले ?

1577

कोरोना वायरस म’हामारी की वजह से देश में जारी लॉकडाउन के तीसरे चरण की मियाद आज पूरी हो रही हैं. पीएम मोदी ने पहले ही कह दिया हैं कि देश के अंदर लॉक डाउन का चौथा चरण लागू होगा लेकिन नये रंगरूप के साथ. अब देखना ये है कि मोदी सरकार चौथे चरण के लॉक डाउन में क्या क्या बदलाव लेकर आती हैं.

 अब ये कयास लगने लगे हैं कि देश के अंदर आज किसी भी वक़्त लॉक डाउन-4 लागू हो सकता हैं.लॉक डाउन के चौथे चरण से पहले कुछ जिलो की लिस्ट सामने आई हैं. जहाँ पर सबसे ज्यदा कोरोना मरीजो की संख्या हैं. एक तरह के कयास लग रहे हैं की जिन जिलों में सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज हैं. उन जिलों को किसी भी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी. लेकिन अब देखना ये है कि सरकार नई गाइडलाइन्स में क्या क्या लेकर आती है.

कोरोना ने अपना क’हर सबसे ज्यादा देश की मायानगरी और इकॉनमी कैपिटल के नाम से जानी जाने वाली मुंबई और इससे सटा पुणे जो आईटी हब हैं. उसको कोरोना ने पूरी तरह से त’बाह कर दिया हैं. यहाँ पर कहीं न कहीं गलती उद्धव सरकार की भी हैं जो वो इसको कण्ट्रोल करने के लिए कोई ढं’ग के कदम नहीं उठा सके. जिसकी वजह से आज सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज महाराष्ट्र में ही पाए गए हैं.   

कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन का चौथा चरण लागू करने के लिए कुछ प्रदेशो के नाम सामने आयें हैं उनके नाम है. ग्रेटर चेन्नई, अहमदाबाद, थाने, दिल्ली, इंदौर, कोलकाता, जयपुर, नाशिक, जोधपुर, आगरा, तिरुवल्लुवर, औरंगाबाद, कुड्डालोर, ग्रेटर हैदराबाद, सूरत, चेंगलपट्टू, अरियालुर, हावड़ा, कुर्नूल, भोपाल, अमृतसर, विल्लुपुरम, वडोदरा, उदयपुर, पालघर, बरहमपुर, सोलापुर और मेरठ. इन जगहों पर कोरोना का क’हर कम होने का नाम नहीं ले रहा हैं.तो उम्मीद है कि यहाँ पर किसी भी प्रकार की बं’दिशे कम नहीं होंगी.