निर्भ’या के’स: चारों आरो’पियों की 1 फरवरी को टल सकती है फां’सी, अब वकील ने खेला ये दाव

4156

निर्भया मामले में दो’षी चारों आ’रोपी फां’सी से बचने के लिए हर हथकंडा अपना रहे हैं लेकिन एक के बाद एक करके उनके सारे रास्ते बंद होते जा रहे हैं. इस मामले में डे’थ वारंट जारी होने के बाद एक फरवरी को दोषियों को फांसी होनी है लेकिन अब इससे पहले दोषियों के वकील ने फिर एक याचिका दायर कर दी है जिससे चारों दोषियों को 1 फरवरी को होने वाली फां’सी टल सकती है.

जानकारी के लिए बता दें चारों दो’षी (अक्षय सिंह ठाकुर, मुकेश सिंह, विनय कुमार शर्मा और पवन कुमार गुप्ता) की फांसी पर रोक के लिए वकील एपी सिंह ने पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका दायर की है. याचिका दायर करते हुए वकील एपी सिंह ने फांसी की तारीख 1 फरवरी को रोक लगने की मांग की है. इस याचिका को दायर करते हुए उन्होंने बड़ा तर्क दिया है.

वकील एपी सिंह ने 1 फरवरी को लगने वाली फांसी पर रोक लगाने की मांग करते हुए कहा है कि नियमानुसार एक ही अपराध सभी विकल्पों के समाप्त होने से पहले फांसी नही दी जा सकती है. इस तर्क को देते हुए उन्होंने Delhi prison rules का हवाला दिया है.

गौरतलब है कि नियमानुसार अब एक फरवरी को फांसी होना नामुकिन है क्योंकि किसी भी दोषी को फांसी देने से पहले 14 दिन पहले उसे इस बारे में बताना जरुरी होता है. साथ ही एक ही अपराध में दोषियों को एक साथ फांसी देने का नियम है. इन नियम के हिसाब से एक फरवरी को फांसी होना मुश्किल है. हालाँकि जेल प्रशासन चारों दोषियों को दिल्ली की तिहाड़ जेल संख्या-3 में फांसी देने की तैयारी कर चुका है.