चुनावों के मौसम में जाने क्या-क्या चीजे लोगो को कर रही प्रभावित….

असम, बंगाल, केरल और तमिलनाडु के साथ केन्द्रशासित राज्य पुंडूचेरी में भी विधानसभा चुनाव होने वाले है. हमारे देश में चुनाव को भी लोग बड़े त्यौहार के रूप में मनाते है. जैसे जैसे चुनाव के दिन नजदीक आ रहे है वैसे वैसे राजनैतिक गहमागहमी बढ़ती जा रही है.आने वाले दिनों में यह और तेजी से बढती नजर आयेगी. चुनाव हर किसी को प्रभावित करता है. जाने अनजाने में हर कोई इसकी गिरफ्त में आ ही जाता है. बाजारों में भी चुनावों को देखते हुए दुकाने खूब सजी हुई है.अपने अपने पार्टी से सम्बंधित टोपी, मास्क, रिब्बन भी लोगो को खूब अपनी तरफ आकर्षित कर रही है. पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में इन दिनों विशेष तरह की मिठाइयां देखने को मिल रही हैं. 

बंगाल में चुनाव लड़ने वाले चारों प्रमुख दलों यानी तृणमूल कांग्रेस, कांग्रेस, सीपीएम और भारतीय जनता पार्टी के चुनाव चिन्हों वाली मिठाइयां बनाई गई हैं. चुनावी रस-रंग में डूबी हुई इन मिठाइयों को यहां के कारीगरों ने ‘निर्वाचन मिष्टी’ का नाम दिया है. आगामी चुनावों का असर इन मिठाइयों पर साफ दिख रहा है. एक तरफ भाजपा के केसरिया रसगुल्लों पर हरा कमल खिल रहा है, तो दूसरी ओर कांग्रेस की मिठाइयों पर उनके चुनाव चिन्ह पंजे का चित्र बना हुआ है. सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की मिठाइयों पर हरी घास से दो फूल खिलते नजर आ रहे हैं. यानी यह टीएमसी के चुनाव चिन्ह को दर्शा रहा है .

वैसे बंगाल में राजनीतिक पार्टिया कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है जीतने के लिए और शायद इस ओंर बढ़ाते हुए अब वो खाने पीने की चीजों से भी लोगो के दिमाग में अपनी पार्टी का नाम याद रखने की कोशिश करा रहे है. ऐसा देख कर तो लग रहा है. कि बंगाल के चुनाव बहुत ही रोचक होने वाले है और पुरे देश की निगाहे अभी वहाँ होने वाले विधानसभा चुनावों पर टिकी हुई है.

Related Articles