केजरीवाल की घटिया राजनीति,सोशल मिडिया पर लगाई लोगों ने क्लास

420

पुलवामा हमले के बाद एक तरफ जहाँ देश आतंक के ख़िलाफ़ एकजुट खड़ा है तो वहीं एक बाद एक  राजनीति करने वाले नेता धीरे धीरे अपना असली चेहरा प्रदर्शित कर रहें हैं ऐसे कई चेहरे आजकल देखने को मिल रहे हैं 

राजनीति में नए नए ड्रामे रचने वाले अरविंद केजरीवाल का हाल ही में एक वीडियो शेयर हुआ है केजरीवाल ने  दिल्ली विधानसभा में भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा की “लोकसभा चुनाव में 300 सीटें जीतने के लिए क्या-क्या करोगे? सीमा पर कितने जवानों को शहीद करोगे? कितनी लाश और चाहिए तुम लोगों को? हमारे कितने जवानों के घर बर्बाद करोगे? पुलवामा आतंकी हमले से दुखी पाकिस्तान पर हुई कड़ी कार्यवाही से राहत महसूस करती जनता का गुस्सा केजरीवाल पर फूट पड़ा

एक ट्वीटर यूजर ने केजरीवाल पर अपनी भड़ास निकलते हुए कहा की “इस आदमी को गाली दो तो गाली बुरा मान जाती है पर इस पर कोई असर नहीं होता

कलाकार और सांसद परेश रावल ने भी अपने कड़े शब्दों में केजरीवाल की निंदा की
इस पर संबित पात्रा ने  केजरीवाल को फटकार लगाई, और कहा की “धिक्कार है! किस किस से लड़ें? पाकिस्तान से… घर में बैठे आस्तीन के साँपों से… किस किस से ??” बीजेपी के तेजिंदर सिंह बग्गा ने भी केजरीवाल को जमकर कोसा बग्गा ने कहा की “इमरान खान के हिन्दुतानी दलालों सम्भल जाओ नहीं तो जनता सड़क पर लेके पीटेगी।”

केजरीवाल के ये शब्द गलत और निंदनीय है ऐसे मौके पर जब पूरा देश आतंक के खिलाफ एकजुट खड़ा हो तब राजनीति करने की हद को पार कर दिया जाए तो जनता ऐसे ही लताड़ती है

केजरीवाल के इस वीडियो को पाकिस्तान के एक निजी चैनल ने भी शेयर किया है और मोदी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं हमारे ही देश के राजनीति दल का नेता दिल्ली जैसे केंद्र शासित प्रदेश को चलाने वाले अरविंद केजरीवाल जब ऐसी बोले बोलते है तो ऐसे में पाकिस्तान जिनसे हमारे संबंध भी अच्छे नही है उन्हें भी हमारे देश पर सवाल खड़े करने का मौका मिल जाता है जिससे हमारे देश की इज्जत पर भी सवाल खड़ा होता है
केजरीवाल जैसे नेता ऐसी बोली बोलकर अपने असली चेहरे को उजागर करते हैं ऐसे वक्त में राजनीति करना ऐसे नेताओं को काफी महंगा पड़ता है सोच सझकर अपने विचारों को व्यक्त करना चाहिए कम से कम राजनीति से ऊपर उठकर देशहित के बारे में सोचना चाहिए

ReplyForward