इधर दिल्ली ज’ल रही है, उधर केजरीवाल राजघाट पर कर रहें है ये ड्रामा

3822

देश की राजधानी दिल्ली में सीएए और एनआरसी के खि’लाफ वि’रोध प्रद’र्शन जारी है.  दिल्ली में CAA को लेकर प्रद’र्शन थम’ने का नाम नहीं ले रहा है. दिल्ली में हर घंटे पर प्रदर्श’नकारि’यों द्वारा उप’द्रव करने की खबर सामने आ रही है. दिल्ली के गोकुलपुरी में हुए उप’द्रव में पुलि’सक’र्मी समेत 8 लोगों की मौ’त हो गई है, वहीं एक डीसीपी समेत कई पुलिसकर्मियों के घा’यल होने की खबर आ रही है. जाफराबाद और मौजपुर में सोमवार को हिं’सा हुई है. वहां सीएए के वि’रोध और समर्थ’न वाले लोग आमने-सामने आ गए थे.

भजनपुरा चौक के पास दो गु’टों में फिर से पत्थ’रबा’जी शुरू हो गई है. लोगों का कहना है कि पुलिस सिर्फ मेन रोड पर दिख रही है, कॉलोनियों के भीतर दुकानों में लोग लू’ट मा’र कर रहें है और सामान बाहर निकालकर आ’ग लगा रहें हैं. दिल्ली के कई इला’कों में हाला’त काफी ज्यादा ही खरब होते नज़र आ रहे है. इसको लेकर आज सुबह अमित शाह के साथ केजरीवाल ने हाई लेवल मीटिंग कर के दिल्लीवासियों को कहा था कि पुलिस ब’ल तैनात किया जायेगा और पुलिस की और जरूरत पड़ी तो वो भी लगाईं जाएगी.

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा है कि ये जो प्रद’र्शन कर रहें है वो हमारे दिल्ली के लोग नहीं है. दिल्ली को ज’ला’ने वाले लोग हमारे अपने नहीं है. ये लोग बाहरी है जो दिल्ली के अंदर घु’स आयें है. जो दिल्ली के साथ ऐसा बर्ता’व कर रहें है.

आज सुबह की बात करें तो केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को प्रेस कांफ्रेंस कर के एक सन्देश दिया था. लेकिन उसके कुछ देर बाद अब वो और दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल राज घाट जाकर शांति बनाये रखने की प्रार्थना कर रहें है. दिल्ली के मुखिया होने के तौर पर दिल्ली की जनता की मदद ना कर के राजघाट पर शांति बनाये रखने की प्रार्थना करने पहुंचे है. केजरीवाल को सिर्फ प्रपोगैंडा करने को दे दो और कोई काम नहीं है. चुनाव के वक़्त बड़ी बड़ी बाते करने वाले केजरीवाल को बस वोट से मतलब है बाकि दिल्ली की जनता मरे या जिए केजरीवाल को फर्क नहीं पड़ता है.

उनके खास और करीबी मित्र उससे पहले दिल्ली के डिप्टी चीफ मिनिस्टर मनीष सिसोदिया के पास भी कोई काम तो है नहीं सिर्फ बयानबाजी करने को दे दो. दिल्ली की जनता सिर्फ मनीष सिसोदिया और केजरीवाल के लिए वोट बैंक है उससे जादा कुछ भी नहीं. मनीष सिसोदिया बीजेपी के नेता कपिल मिश्रा पर निशाना साध रहें है. यहाँ पर दिल्ली बुरी तरह से ज’ल रही है और सिसोदिया अभी भी बीजेपी पर आरोप लगा रहें है. दिल्ली को आम आदमी पार्टी कहा ले जाना चाहती है ये भी एक सोचने वाली बात है.