केजरीवाल ने पढ़ी हनुमान चालीसा तो इस बीजेपी नेता ने कहा ‘हनुमान जी को बुड़बक…’

1032

दिल्ली की राजनीति ने सभी का ध्यान अपनी तरफ खीच लिया हैं जिसके बाद से अनुमान लगाये जा रहे हैं. इस बार दिल्ली की गद्दी किसके पास आती हैं. वहीं कौन दिल्ली की सत्ता में राज करेगा ये देखना दिलचस्प होगा. दिल्ली के चुनाव की तारीक जैसे जिसे नजदीक आ रही हैं सभी पार्टियां अपने अपने दांवपेंच खेल रहे हैं दिल्ली की गद्दी को जीतने के लिए. दिल्ली के शाहीन बाग़ में हुई घटनाओं ने दिल्ली के चुनाव की दिशा को पूरी तरह ही बदल के रख दिया हैं. जिसके बाद वि’पक्ष ने एक दूसरे पर नि’शाना साधा हैं.

दिल्ली चुनाव को जीतने के लिए वि’पक्षी दल एक दूसरे पर आ’रोप प्र’त्या’रोप भी लगा रहे हैं. जिसके बाद अब बीजेपी के नेता रवि किशन ने दिल्ली के सीएम केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा की इनको शाहीन बाग़ में बिरयानी खिलाने के बाद याद रहा हैं कि ये हिन्दू हैं. इसी के साथ रवि किशन ने कहा कि अब ये हनुमान जी को बुड़बक नहीं बना सकते हैं और दिल्ली का चुनाव केजरीवाल अब हार रहे हैं इनको तो हनुमान चालीसा पढ़नी चाहिए और पेड़ से लटक जाना चाहिए. बीजेपी नेता रवि किशन के इस बयान के बाद विवाद और बढ़ सकता हैं. लेकिन इसका असर दिल्ली चुनाव पर क्या होगा ये तो चुनाव के बाद ही पता चलेगा.

दिल्ली चुनाव में इस कदर गहमागहमी मच गयी हैं जिसके बाद से सभी पार्टियों ने एक दूसरे पर आ’रोप लगाने से पीछे नहीं हट रहे हैं. दरअसल केजरीवाल ने एक टीवी चैनल पर कहा था कि मुझे हनुमान चालीसा आती हैं और उसके बाद उन्होंने हनुमान चालीसा पढ़ के सुनाई थी. इसी के साथ केजरीवाल ने कहा था कि हनुमान चालीसा पढ़ने के बाद बहुत शांति मिलती हैं जिसके बाद इस पर वि’वाद बढ़ गया.

गौरतलब हैं. दिल्ली के शाहीन बाग ने पूरी तरह दिल्ली चुनाव का रूप ही बदल दिया हैं. जिसके बाद बीजेपी के नेता परवेश वर्मा ने भी कहा कि शाहीन बाग़ को केजरीवाल ने चुनावी मु’द्दा बना दिया हैं. अब दिल्ली चुनाव में किसके हिस्से दिल्ली की गद्दी आएगी ये तो चुनाव के परिणाम के बाद ही पता चलेगा. क्या एक बार फिर दिल्ली की जनता केजरीवाल को अपना सीएम चुनती हैं या इस बार वो किसी और को दिल्ली की सत्ता सँभालने का मौका देती हैं.