मजकत पर केजरीवाल ने तोड़ी चुप्पी, कहा सब बंद होने के बाद ऐसा कैसे हुआ ?

143

दिल्ली समेत पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है. दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए एक मजहबी जलसे में देश विदेश के करीब 2000 लोग शामिल हुए और फिर वहां से निकल कर देश के अलग अलग हिस्सों में फ़ैल गए. दिल्ली में करीब 11 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. ये सभी निजामुद्दीन के उसी मजहबी जलसे में शामिल हुए थे. ये मज़हबी जलसा एक इस्लामी संगठन तबलीगी जमात ने आयोजित किया था. 

यह मामला जैसे ही सामने आया उसके बाद देश भर में हलचल चालू हो गयी जिसे देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बयान देते हुए इस पूरी घटना की निंदा की है और कहा कि सारे मंदिर और मस्जिद बंद हैं. उसके बाद भी ऐसा कैसे हो गया. इसके अलावा केजरीवाल ने कहा कि मरकज से 1500 लोगों को निकाला गया है.

गौरतलब है मामला सामने आने के बाद से स्थिति और गंभीर हो गयी है. जहाँ एक तरफ कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो की संख्या 1409 से ऊपर पहुच गयी है. वही दूसरी तरफ इससे मरने वालो की संख्या में भी लगातार इजाफा होता जा रहा है. जिसके चलते अचानक यह मामला सामने आने से हालत और ख़राब हो गए है. जबकि सरकार ने देशभर में 21 दिन के लिए लॉक डाउन कर दिया है और लगातार लोगो से अपील की है वो बाहर जाने से बचे घर में ही रहे. उसके बाद इस तरह की लापरवाही से कई लोगो की जान अब खतरे में पड़ गयी है.