कठुआ में लॉकडाउन के बीच मजदूरों का हं’गामा, सड़कों पर की तो’ड़फो’ड़

देश भर में लॉकडाउन की वजह से  जगह जगह स्टूडेंट्स और प्रवासी मजदूर फं’से हुए है. जिसकी वजह से उन्हें काफी दि’क्कते भी आ रही है इसके लिए सरकार ने स्पेशल ट्रेनों का भी संचालन शुरू कर दिया है. जिससे उन्हें घरो तक पहुँचाया जा सके.

इसी के बीच जम्मू के कठुआ से एक मा’मला सामने आया है. जिसमें कम वे’तन मिलने की वजह से मजदूरों ने सड़क पर आकर हं’गामा करना शुरू कर दिया साथ ही सड़क पर खड़ी गाड़ियों में तो’ड़फो’ड़ भी कर दी. दरअसल ये मजदूर कठुआ में एक कपड़ा मील में काम करते है है और काम की वजह से ये लोग अपने घरो पर नहीं गये और वही लगे शिविरों में इतने दिनों से रह रहे थे. इनका आ’रोप है कि कपड़ा मील के मालिक ने इनको पूरा वेतन नहीं दिया जिसकी वजह से मजदूरों में गु’स्सा है और पूरे वेतन की मांग के लिए सभी एक साथ इक’ट्ठा हुए है.

जब घट’ना का पता पुलिस को चला तो लोगों को समझाने पहुंचे IPS शैलेंद्र मिश्रा मौके पर पहुंचे और उन्होंने ने भोजपुरी भाषा में लोगों से बात की और उन्हें भरोसा दिलवाया कि वो मिल मालिक से बात कर उनकी बाकी सैलरी दिलवाएंगे. दरअसल पुलिस के सामने सबसे बड़ी चु’नौती यह थी इतने सारे लोगो को समझाया कैसे जाये. क्यूंकि एक साथ इतने लोगो के जमा होने से कोरोना का सं’कट और फैल सकता था.

हालाँकि पुलिस ने लोगो को समझा लिया है और उन्हें उनके शिविर में जाने को कहा है. जाहिर है लॉकडाउन की वजह से कामकाज ठ’प चल रहा है और मजदूरों को लेकर इस बीच यह पहला मा’मला नहीं है. इससे पहले भी लोगो ने ज’बरदस्ती काम करवाने को लेकर हं’गामा किया था.