CAA का विरोध कर रहे लोग नही हट रहे थे पीछे, अधिकारी खड़ा होकर गाने लगा राष्ट्रगान

1840

देश के अधिकतर हिस्सों में इस वक्त CAA का विरोध हो रहा है. इस विरोध की आड़ में समाज के असामाजिक तत्व लगातार हुड़दंग करने में लगे हुए हैं. जहाँ प्रदर्शन उग्र हो जाता है या फिर विरोध का स्तर अधिक हो जाता है तो कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज कर रही है. इसी बीच बेंगलुरु का एक वीडियो सोशल मीडिया जमकर वायरल हो रहा है.

राजधानी में प्रदर्शनकारी इकट्ठा हो रहे थे और विरोध कर रहे थे. इसी बीच उन्हें हटाने और विरोध रोकने के लिए पुलिस पहुंची तो उन्होंने हटने से मना कर दिया. उसके बाद बेंगलुरू के डीसीपी चेतन सिंह राठौड़ ने लोगों को छोटा सा भाषण देकर समझाया. उन्‍होंने लोगों से अपने घरों की तरफ जाने का आग्रह करते हुए कहा कि असामाजिक तत्‍व इस तरह के मौकों का लाभ उठाना चाहते हैं और उकसाने वाली हरकते करते हैं. उसके बाद हिंसा हो जाती है. लिहाजा आप पुलिस पर भरोसा करते हुए शांतिपूर्वक अपने प्रदर्शन को समाप्‍त कर दें. उसके बाद उन्‍होंने कहा कि आइए मेरे साथ राष्‍ट्रगान गाइए. इसके सभी लोग खड़े होकर डीसीपी के साथ राष्ट्रगान गाया.

इसके भीड़ धीरे धीरे इधर उधर होने लगी और प्रदर्शन खत्म हो गया. लोग डीसीपी की जमकर तारीफ कर रहे हैं. हालंकि एक अलग जगह पर प्रदर्शन कर रहे लोगों को हिरासत में ले लिया गया. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “तीन दिन से धारा 144 लागू होने के बावजूद कार्यक्रम स्थल पर इकट्ठे होने की कोशिश कर रहे लगभग 300 प्रदर्शनकारियों को बेंगलुरू के टाउन हॉल में हिरासत में रखा गया.”

इसी के साथ साथ बेंगलुरू पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने अपने निजी ट्विटर खाते से कई प्रदर्शनकारियों से व्यक्तिगत रूप से बात की और लोगों से कानून के दायरे में रहने की नसीहत भी दी. सोशल मीडिया के माध्यम से भास्कर राव ने प्रदर्शनकारियों से बात भी की और समझाया भी. बेंगलुरु पुलिस के इस कदम की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है.