CAA के सपोर्ट में सड़क पर उतरे कपिल मिश्र, जाफराबाद के प्रद’र्शनका’रियों को दिया मुह तोड़ जवाब

2301

शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर पिछले 70 दिनों से वि’रोध प्रद’र्शन चल रहा है शाहीन बाग की आ’ग धीरे-धीरे फैलती जा रही है. आज ये प्रद’र्शन दिल्ली के जाफराबाद से लेकर चाँद बाग तक पहुँच चूका है. शाहीन बाग में ये आ’ग कम होने का नाम नहीं ले रही है. शाहीन बाग को देखते हुए रविवार को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे भी महिलाओं ने CAA कानून के खि’लाफ वि’रोध-प्रदर्श’न करना शुरू कर दिया है.

इसको लेकर फिर से दिल्ली में शाहीन बाग को देखते हुए लोगों ने और भी कई जगह धर’ना देना शुरू कर दिया है. जबकि बीजेपी ने CAA को लेकर अपना रुख साफ़ कर दिया है. गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि CAA को लेकर एक कदम भी पीछे नहीं हटेंगे. इसको लेकर बीजेपी ने अपने कई सांसद और नेताओं को भी लोगो के पास जाने को बोला था और उनको CAA कानून के बारे में बताने के लिए कहा था.

लेकिन अभी शाहीन बाग का मुद्दा दिल्ली चुनाव में काफी गरम था. उसके बाद थोडा ठंडा पड़ता हुआ नजर आया था. लेकिन, आज शाहीन बाग की वजह से ही दिल्ली के कई इलाकों में धर’ना शुरू हो गया है और अब देखना है की इस धर’ने को लेकर फिर से मुस्लिम महिला सड़क जाम करके प्रद’र्शन करना शुरू कर दिया है.

इस प्रद’र्शन को देखते हुए बीजेपी के नेता कपिल मिश्र ने CAA के समर्थन में समर्थकों के साथ रोड पर उतर आए हैं. बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा है कि ‘जाफराबाद प्रद’र्शन के वि’रोध में और CAA के समर्थन में वह रोड पर उतरे हैं. कपिल मिश्र ने कहा कि हम दिल्ली में दूसरा शाहीन बाग नहीं बनने देंगे और अगर हम लोगो को CAA को लेकर सड़क पर उतरना पड़ेगा तो हम उतरेंगे’.

उधर, सीएए के वि’रोध में हो रहे प्रद’र्शन के चलते जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर एक तरफ का रोड बंद है कर दिया गया है. तो वही मेट्रो स्टेशन पर न तो मेट्रो रूक रही है और न ही लोगों को अंदर और बाहर जाने दिया जा रहा है. लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. शनिवार देर रात करीब 200 से 300 महिलाओं ने आकर मेट्रो के नीचे प्रद’र्शन करना शुरू कर दिया था, जिसके बाद वहां बड़ी संख्या में पुलिस के जवान और अर्द्धसैनिक बलों को तैनात किया गया. महिला प्रद’र्शन’कारियों को देखते हुए महिला जवानों को भी तैनात किया गया है.

जाफराबाद में महिलाओं ने धर’ना प्रद’र्शन शुरू कर दिया है. केजरीवाल बीजेपी पर आरोप लगा रही है कि दिल्ली में पुलिस विभाग बीजेपी के पास है. वो चाहे तो प्रदर्शनकारियों को धरना स्थल से हटवा सकते हैं. लेकिन बीजेपी के नेता का कहना है की हम बच्चों और महिलाओं पर जुर्म नहीं करते है और हम नहीं चाहते कि किसी प्रकार की हिंसा न हो.लेकिन इस धरना को लेकर हम बात करेंगे और इस धरने को खत्म करने की कोशिश करेंगे.