कन्‍हैया कुमार ट्वीट कर बताया ‘ह‍िंदू और सं’घी होने का फर्क’,बदले में लोगों ने लगा दी क्ला’स

569

जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ के अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. बिहार से सांसद का चुनाव हार चुके कन्हैया कुमार सरकार पर अक्सर निशाना साधते रहते हैं लेकिन अक्सर वो एक तबके के लोगों को निशाने पर लेन के चक्कर में उल्टे ट्रोल हो जाते हैं. कन्हैया कुमार इन दिनों CAA और NRC को लेकर राज्यव्यापी यात्रा कर रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें कन्हैया कुमार पर इस यात्रा के दौरान पिछले 2 दिनों में 2 बार लगातार हमला हुआ है. हालाँकि इसमें किसी के घायल होने की खबर नहीं है. इसी बीच कन्हैया कुमार ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर निशाना साधते हुए एक ट्वीट किया, जिसके चलते वह लोगों के निशाने पर आ गये. ट्वीट करते हुए कन्हैया कुमार ने हिंदू और संघी होने में फर्क बताया.

कन्हैया कुमार ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए लिखा कि “हिन्दू होने और संघी होने में क्या फ़र्क़ है?हिन्दुओं के लिए धर्म आस्था है और संघियों के लिए धंधा.” उनके इस ट्वीट के बाद लोग उनपर बरस पड़े कोई किसी तरह की प्रतिक्रिया दे रहा है तो कोई उन्हें दलाल कह रहा है.

आरती नाम की एक यूज़र ने कन्हैया कुमार को लेकर लिखा है कि ‘ हिन्दू होने और वामपंथि होने में क्या फ़र्क़ है? हिन्दुओं के लिए धर्म आस्था है और वामपंथियों के लिए दलाली धंधा हैं.’

वहीं एक यूज़र ने लिखा है कि वामपंथी कबसे आस्तिक होने लगे, वामपंथी सुविधानुसार और लालचवश किसी भी मजहब को अपना सकते हैं.

वहीं एक यूज़र ने लिखा है कि ‘कन्हैया कुमार और देशद्रोही में कोई फर्क है? नहीं है क्योंकि दोनों पर्यायवाची हैं.’