मध्यप्रदेश में सियासी हलचल तेज होने के बीच सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर पार्टी को बड़ा झटका देते हुए बीजेपी का दामन थाम लिया है. सिंधिया के बीजेपी में जाने के बाद कमलनाथ सरकार पर छा रहे संकट के बादल अब उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. राज्यपाल लाल जी टंडन ने कमलनाथ को सरकार अल्पमत में बताते हुए फ्लोर टेस्ट करने का आदेश दे दिया है जिसके बाद से कांग्रेस की मुश्किलें और बढ़ गयी हैं.

जानकारी के लिए बता दें मध्यप्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे सिंधिया के साथ 22 विधायकों ने भी इस्तीफा देकर कमलनाथ सरकार पर संकट ला दिया था जिसका अब काउंटडाउन शुरू हो गया है. कांग्रेस के इन 22 विधायकों समेत मंत्रियों के इस्तीफा देने के बाद कमलनाथ सरकार पर 92 ही विधायक रह गये हैं और बीजेपी के पास बहुमत साबित करने के लिए विधायक पूरे हैं जिसके चलते राज्य में एक बार फिर से शिवराज सिंह की सरकार बन सकती है. इसी बीच कमलनाथ सरकार के मंत्री का एक बड़ा बयान सामने आया है.

मध्यप्रदेश में चल रहे सियासी हलचल के बीच कमलनाथ सरकार के मंत्री ने एक अजीबोगरीब बयान दिया है. इस मंत्री का कहना है कि प्रदेश के विधायक काफी परेशान हैं उनके ऊपर तंत्र-मन्त्र का प्रयोग किया गया है. वो मंत्री कोई और नहीं बल्कि पीसी शर्मा हैं जिन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान ये बातें कही हैं.

गौरतलब है कि पीसी शर्मा ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि विधायक काफी परेशान हैं जिसका कारण निश्चित तौर पर तंत्र-मन्त्र का ही प्रयोग हो सकता है. वहीं कमलनाथ अपनी सरकार बचाने के लिए हर हथकंडा अपना रहे हैं और कह रहे हैं कि आल इज वेल, वहीं दूसरी ओर बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस सरकार को अल्पमत में होने का दावा किया है. इसी बीच पीसी शर्मा के आए इस बयान के बाद से पार्टी और किरकिरी हो रही है.