भव्य राम मंदिर निर्माण को लेकर पूर्व सीएम कल्याण सिंह ने जताई ख्वाहिश, कहा कि ‘राम मंदिर दर्शन के बाद ही निकलें मेरे…’

81

5 अगस्त 2020 का वो दिन इतिहास के पन्ने में लिखा जायेगा. ऐसा दूसरी बार हो रहा है जब 5 अगस्त को लोग ताउम्र याद रखेंगे. पिछले साल यानि की 5 अगस्त 2019 धा’रा 370 हटाई गई थी और इस बार राम मंदिर का भूमि पूजना पीएम मोदी के हाथों से किया जायेगा. इन सबके बीच तत्कालीन मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर अपने दिल की बात कही है.

1992 में वि’वादि’त ढां’चा गिरने के बाद अपनी सरकार से इस्तीफा दे देने वाले तत्कालीन सीएम कल्याण सिंह ने राम मंदिर के निर्माण पर खुशी जाहिर की है. पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने राम मंदिर के भूमि पूजन के मौके पर कहा कि हिंदुस्तान की सांस्कृतिक स्वतंत्रता का दिन है. वहीं कल्याण सिंह ने ईश्वर से प्रार्थना करते हुए कहा है कि उनकी इच्छा है कि भगवान राम के भव्य मंदिर के बाद ही वह दुनिया से अ’लवि’दा लूँ.

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में साल 1992 में वि’वादि’त ढां’चा गिराए जाने के दौरान यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह का कहना है कि ‘मंदिर मामले में स्टैंड लेने और वि’ध्वं’स के बाद मेरी सरकार गि’रा दी गई. मुझे जे’ल हुई, मुझ पर जुर्मा’ना हुआ लेकिन मुझे इसका कोई मलाल नहीं क्योंकि यह फैसला मैंने लिया था और यह हिंदुस्तान के हित में फैसला था.’ इसके बाद कल्याण सिंह ने कहा कि मेरी इच्छा है कि भव्य राम मंदिर के दर्शन के बाद ही अपने प्राण त्यागें.भगवान राम के मंदिर बनने को लेकर कल्याण सिंह ने कहा कि ये उन लोगों को समर्पित है और जिनके सं’घर्ष के बल पर राम मंदिर का आं’दोल’न आज इस मुकाम पर पहुंचा है.