CAA के स’मर्थन में बं’गाल में रैली निकाल रहे बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय पर पुलिस का ए’क्शन

846

केंद्र सरकार ने अभी हाल ही में कुछ दिन पहले नागरिकता संशोधन कानून पर बिल पास किया था. CAA को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन होने लगा. विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार के इस फ़ैसले के का विरोध करना शुरू कर दिया और देखते ही देखते लोग भी सड़कों पर विरोध करने के लिए आते गये. जिसके बाद केंद्र सरकार ने दो टूक साफ़ कर दिया था कि यह बिल वापस नही लिया जायेगा.

जानकारी के लिए बता दें केंद्र सरकार के इस फ़ैसले का एक तरफ तो लोग समर्थन कर रहे हैं और कह रहे हैं कि इस देश में अवैध रूप से रह घुसपैठियों को बाहर भगाना चाहिए तो वहीं दूसरी तरफ विपक्षी दल के साथ लोग विरोध भी कर रहे हैं. हालाँकि सरकार ये साफ़ भी कर चुकी है इस बिल से देश में रह रहे लोगों की नागरिकता में कोई समस्या नही आएगी.

दिल्ली के शाहीन बाग़ में पिछले 50 दिनों से केंद्र सरकार के इस फ़ैसले का विरोध चल रहा है और वहां लोग डटे हुए हैं. इसी बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल वह बंगाल में CAA के समर्थन में रैली निकाल रहे थे, जिसके चलते कोलकाता पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है.

BJP leader Mukul Roy during a press conference at party headquarter in Kolkata on Sunday. Express Photo by Partha Paul. 26.05.2019. *** Local Caption *** BJP leader Mukul Roy during a press conference at party headquarter in Kolkata

गौरतलब है कि यह रैली कोलकाता के टॉलीगंज फैरी में आयोजित की गई थी और यहीं से रैली की शुरुआत होनी थी. लेकिन ये होने से पहले ही पुलिस ने नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि पुलिस ने इसके पीछे बताया है कि प्रशासन की अनुमति के बगैर रैली निकाली जा रही थी. इतना ही नहीं कैलाश विजयवर्गीय के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय को भी हिरासत में लिया गया है.