कार में आतं’कि’यों के साथ पकड़ाया डीएसपी, राष्ट्रपति पदक से था सम्मानित

5232

जम्मू कश्मीर पुलिस के एक डीसीपी को कार में आ’तंकि’यों के साथ पकड़ा गया है. दोनों आ’तं’की हि’ज’बुल मुजा’हि’द्दीन से संबंधित थे. जम्मू कश्मीर पुलिस ने कुलगाम चेक पोस्ट पर चेकिंग के दौरान डीसीपी को दोनों आ’तंकि’यों के साथ गिर’फ्तार किया. डीसीपी कार से दोनों आ’तंकि’यों के लेकर दिल्ली जा रहे थे. जिस सफेद मारुति कार में तीनों पकड़े गए उसमें से दो AK-47 राइफल और हैं’ड ग्रे’ने’ड भी बरामद हुए हैं.

आ’तंकि’यों के साथ पकडे गए डीएसपी देविंदर सिंह की तैनाती श्रीनगर इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर थी. पिछले साल ही उन्हें 15 अगस्त को राष्ट्रपति पुलिस मैडल से सम्मानित किया गया था. पहले वह जम्मू-कश्मीर पुलिस के ऐंटी हाइजैकिंग स्क्वॉयड में शामिल थे. लेकिन आ’तंकि’यों के खिलाफ उनकी एक्शन से प्रभावित हो कर उन्हें इंस्पेक्टर के पद से प्रमोट करके डीएसपी बनाया गया था.

प्रतीकात्मक तस्वीर

साल 2001 में जब संसद पर आ’तं’की हमला हुआ था तब वह इंस्पेक्टर के रूप में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप का हिस्सा थे. ऐंटी टे’र’र ऑपरेशन के बाद उन्हें प्रमोशन मिला और वो डीएसपी बन गए. बाद में उनपर वसूली का आरोप लगा जिस कारण देविंदर सिंह कुछ समय के लिए वह सस्पेंड भी रहे और फिर श्रीनगर पीसीआर में तैनाती मिली. बाद में उन्हें ऐंटी हाइजैकिंग स्क्वॉयड में शामिल किया गया और पिछले साल श्रीनगर एयरपोर्ट पर तैनात किए गए.

आ’तंकि’यों के साथ गिरफ्तारी के बाद देविंदर सिंह के आवास पर छापेमारी भी की गई तो वहां से एक AK-47 रा’यफ’ल, दो पि’स्ट’ल और तीन हैं’ड ग्रे’ने’ड भी बरामद हुए हैं. उनका आवास श्रीनगर के बादामी बाग स्थित आर्मी हेडक्वॉर्टर के नजदीक शिवपोरा में है.