JDU ने तेजस्वी यादव के नेतृत्व क्षमता पर उठाए सवाल, कहा ‘एक तरफ इंजिनियर और दूसरी तरफ 8वीं…’

61

बिहार में विधानसभा चुनावों का आगाज हो चुका है. चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान भी कर दिया है, जिसके बाद से ही सभी दल प्रचार-प्रसार में जुट गये हैं और शीट शेयरिंग में लगे हुए हैं. जैसे जैसे चुनाव नजदीक आता जा रहा है वैसे ही अभी सीट शेयरिंग को लेकर सभी दलों में सहमती नही बन पा रही है. वहीँ दोनों तरफ से आरोप और प्रत्यारोप का भी दौर जारी है. दोनों दल एक दूसरे पर बखूबी निशाना साध रहें हैं.

इस कड़ी में जेडीयू ने नेता प्र’ति’प’क्ष तेजस्वी यादव के नेतृ’त्व पर सवाल खड़े किए हैं. दरअसल बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले महागठबंधन में फू’ट लगातार जारी है. जीतन राम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा के साथ छोड़ने के बाद लगभग राजग से अलग होकर चुनाव लड़ने का मूड बना दिया है, ऐसे में चारों तरफ से तेजस्वी के नेतृत्व पर सवाल खड़े होने लगे हैं.

जेडीयू के प्रवक्ता राजीव रंजन ने तेजस्वी की तुलना नीतीश से करते हुए कहा कि ‘एक तरफ इंजीनियर उम्मीदवार है जबकि दूसरी तरफ आठवां पास. नीतीश कुमार ने काम करके दुनिया को दिखाया है पर तेजस्वी के पास ना तो डिग्री है और न ही अनुभव’. राजीव रंजन ने आगे कहा कि ‘तेजस्वी ना’दा’नी और अ’हं’का’र दोनों अपने ऊपर हावी होने का सबूत दे रहे हैं. उनके नेतृत्व पर पार्टी के कार्यकर्ताओं को ही भरोसा नहीं है, यही कारण है कि आरजेडी के कार्यकर्ता और नेता सभी भाग रहे हैं’. राजीव रंजन ने आरजेडी को लेकर कहा कि सभी को लगता है कि इस बार भी आरजेडी की सरकार बिहार में नहीं बनेगी. बिहार में चुनावी लड़ाई शुरू होने से पहले ही आरजेडी की हार तय हो गई है.