जामिया पर जावेद अख्तर ने ऐसा क्या कहा कि IPS अधिकारी ने उनको धो डाला

2155

पूरे देश में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हो रहे बवा’ल में दिल्ली भी पीछे नही है. दिल्ली के जामि’या मिलिया में हिं’सा बढती ही जा रही है. सोमवार को जामि’या मिलि’या में जारी प्रदर्शन हिं’सक हो गया था. अब लोग सोशल मीडिया पर भी अपनी अलग-अलग प्रतिक्रिया दे रहे हैं. इसी बीच इस मु’द्दे पर शायर और गीतकार जावेद अख्तर की भी प्रतिक्रिया सामने आई है. दरअसल जावेद अख्तर का ट्वीट एक ट्वीट का जवाब था, जिसमे उन्हें टैग किया गया था.

जावेद अख्तर को किसी ने टैग कर के लिखा ‘जामिया मिलिया के छात्र मीडिया पर अ’टैक कर रहे हैं. उस मीडिया पर जो उन्हें उनके द्वारा किये जा रहे शांतिपूर्ण वि’रोध का आईना दिखा रहे हैं. लेकिन एंटी-नेशनल और सेक्युलर लोग इसकी निंदा नही करेंगे, ये शहरी आ’तंकवादी हैं’.

इस ट्वीट में टैग होने के बाद जावेद ने अपने जवाब में कहा,”लॉ ऑफ आर्डर के मुताबिक, किसी भी परिस्थित में पुलिस किसी भी यूनिवर्सिटी के कैंपस में यूनिवर्सिटी के अधिकारी की इजाजत के बिना नही घुस सकती . जामिया कैंपस में बिना इजाजत घुसकर पुलिस ने एक ऐसी मिसाल कायम की है जो हर यूनिवर्सिटी के लिए एक खत’रा है”

इस ट्वीट के बाद पुलिस महकमे पर ऊँगली उठते देख IPS अधिकारी संदीप मित्तल इस में उतर आये हैं संदीप मित्तल ने जावेद अख्तर को जवाब देते हुए कहा की “प्रिय कानूनी विशेषज्ञ, प्लीज लॉ ऑफ लैंड, अनुभाग संख्या और अधिनियम आदि के नाम को थोडा विस्तार से समझाइए ताकि हमे भी ज्ञान प्राप्त हो.

गौरतलब है इस वक्त सिटीजनशिप अमेंडमेंट बिल पर देश भर में हं’गामा कटा हुआ है, कहीं वि’रोध प्रदर्शन तो कहीं दंगे जैसे हालात नजर आ रहे हैं, विरोध का स्तर धीरे धीरे उग्र होता जा रहा है. और इस बीच इस तरह से सेलिब्रिटीज के बयान और ट्वीट भड’काऊ बातों की तरह सामने आ सकते हैं. इसलिए पुलिस प्रशासन स’ख्ती से इनपर नजर बनाये हुए है.