लड़की ने अश्लीलता का झूठा आरोप लगा कर बर्बाद कर दी इस लड़के की जिंदगी,अब देखिए क्या हुआ

4636

आज हम अपने दर्शकों से पूछना चाहते हैं की अगर आपके पास कोई लड़की आए और ये कहे की कोई लड़का उसे छेड़ रहा है तो आप क्या सोचेंगे, ज़ाहिर सी बात है आपको भी यही लगेगा की वो लड़की सच ही बोल रही होगी.
वहीँ दूसरी ओर वो लड़का जिसपर ये लड़की छेड़ छाड़ का इलज़ाम लगा रही है वो आपसे लाख कहे की उसने ऐसा कुछ भी नहीं किया और वो लड़की झूठ बोल रही है…. लेकिन आप उस लड़की की ही बात मानेंगे….. स्वभाविक सी बात है.

आज हम आपको इससे मिलताजुलता किस्सा सुनाने वाले हैं. लड़की का नाम है जसलीन कौर और लड़के का नाम है सरबजीत. आप में से बहुत होंगे जो ये नाम भूल गए होंगे, लेकिन शायद ये तस्वीर जरूर याद होगी. 2015 में सोशल मीडिया पर इस लड़के की तस्वीर काफी वायरल हुई.

तस्वीर के साथ एक कहानी भी वायरल हो रही थी. जसमीत सिंह नाम की ये लड़की जिसने ये फोटो पोस्ट की थी उसने फोटो के साथ लिखा था, “ इस आदमी ने तकरीबन 8 बजे तिलक नगर में मेरे ऊपर अश्लील टिप्पणी की थी.” इसके साथ इस लड़की ने फोटो में मौजूद लड़के की निजी जानकारी भी सोशल मीडिया पर ही दे डाली, फिर लिखा की “ मैंने इसे बताया की मैं तुम्हारी फोटो ले रही हूँ और पुलिस में कंप्लेंट भी करुँगी, इसके जवाब में लड़का फोटो के लिए पोज़ देने लगा और बोला जो कर सकती है कर ले, कंप्लेंट कर के दिखा, फिर बताता हूँ की मै क्या कर सकता हूँ.” इसके साथ की लड़की उस ट्रैफिक सिग्नल पर मौजूद 10 20 लोगों पर भी अरूप लगा देती है की वो लोग ये सब होता हुआ देख कर भी चुप रहे, किसी को भी फर्क नहीं पड़ा. लेकिन मैं खुद के लिए खड़ी हुई और इसके खिलाफ FIR दर्ज करवाई. जसमीत ने लिखा की मैं लिख सकती थी वो शब्द जो इस लड़के ने मेरे लिए बोले थे, लेकिन मैं ये नहीं चाहती की FB मेरा ये पोस्ट डिलीट कर दे.

जसलीन ने लोगों से ये पोस्ट ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की अपील की थी. जब इस मामले ने टूल पकड़ी तब सरबजीत ने इस मामले पर अपना पक्ष रखा, “मुझे पता है कि लड़कियों के साथ काफी छेड़छाड़ होती है. लेकिन जो बात घटित ही न हुई हो उसे इशू बनाया जा रहा है. मई बस इतना कर सकता हूँ कि अगर मैंने बदतमीजी की होगी, तो सबने सुना होगा. किसी ने कुछ क्यों नहीं कहा. मैं भी नॉर्मल इंसान हूं. कहीं का डॉन या गुंडा नहीं, जो मुझसे लोग डर जाएँ.
दोनों ने ही अपना अपना पक्ष रखा, मगर सुनी किसकी गई जसलीन की. इस वाकिये के बाद सरबजीत जो अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा, आस पास ले लोगों के बीच सरबजीत और उसका परिवार बदनाम हो गया, लोगों सोशल मीडिया के ज़रिए सरबजीत को हरास करना शुरू कर दिया और दूसरी तरफ जसलीन कौर बन गई हीरो जिसकी वाह वाही दिल्ली के CM भी कर रहे थे, रातों रात जस्लीन स्टार बन गयीं, की कई सेलिब्रिटीज भी इनकी इस बहादुरी की तारीफ़ करने लग गए.

सरबजीत को इस घटना के बाद अरैस्ट किया गया जिसके बाद उसकी ज़मानत हुई. लेकिन कुछ ही दिनों बाद एक चश्मदीद सामने आता है ‘विश्वजीत’ जो दावा करता है कि सरबजीत ने लड़की से छेड़छाड़ नहीं की थी, और लड़की सरबजीत को फंसा रही है. लड़की ने सरबजीत को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी. साथ ही उसने बताया कि लड़की ने कहा, पुलिस वाले तेरी बजाएगें तभी तु सुधरेगा.
लेकिन तब तक तो जसलीन महानता की सारी सीढ़ियां चढ़ चुकीं थी. अब इनसाफ़ से किसी को कोई मतलब नहीं रह गया था.

आज इस घटना को चार साल हो रहे हैं, इन चार सालों में कईयों बार इस केस की सुनवाई बैठ चुकी है. हर बार सरबजीत तारिख के दिन कोर्ट पहुँचता था. लेकिन जसलीन ने पिछले 4 सालों से कोर्ट में एक भी हाजिरी नहीं लगाई.

जिस लड़की के साथ ऐसी घटना घटी, उसे इंसाफ पाने से मतलब ही नहीं है. जब अदालत उसे मौका दे रही है की वो आ कर अपनी बात सामने रखे तब जसलीन कही दखाई क्यों नहीं देतीं? इससे साफ़ ज़ाहिर होता है की जसलीन को इन्साफ से कोई मतलब नहीं है, उसे सिर्फ फेम चाहिए था जो उसे मिल गया. आज यहाँ एक व्यक्ति के जिंदगी के चार साल बर्बाद हो गए, जो उसके कोई नहीं लौटा सकता, और दूसरी तरफ वो लड़की विदेश में आराम से अपनी जिंदगी व्यतीत कर रही है. हम मानते हैं लड़कियों से छेड़ छाड़ के मामले होते हैं और उनमे से ज़्यादातर सच भी होते हैं लेकिन सिर्फ आरोप के बल पर किसी को मुजरिम करार देना गलत है.