शादी के बाद से ही पति को भाई मानती है पत्नी, परेशान पति पहुंचा पुलिस के पास

शादी सभी के जीवन में एक अहम किरदार निभाती है.लेकिन कभी-कभी ये ही लोगों के जीवन में कब मुसीबत बन जाती है,पता ही नहीं चलता. कुछ ऐसा ही मामला मध्य प्रदेश के मंडला जिले से सामने आया है. जहाँ शादीशुदा जीवन से परेशान नैनपुर गाँव के एक व्यक्ति ने पुलिस परिवार परामर्श केंद्र में आवेदन किया है. जिसमें उसने कहा कि उसकी पत्नी उसे पति नहीं बल्कि भाई मानती है और उसके साथ भाई की तरह बर्ताव करती हैं. इसके अलावा पीड़ित व्यक्ति ने कहा कि उसकी शादी को चार साल हो गए हैं और उसकी पत्नी उसे अपने करीब नहीं आने देती, लेकिन उनके बीच कभी भी पति पत्नी जैसे कोई सम्बन्ध नहीं बने हैं.

पीड़ित व्यक्ति ने परामर्श केंद्र के व्यक्तियों और अधिकारियों को बताया कि उसकी शादी 2015 में हुई थी. जिसके कुछ समय बाद ही उसकी पत्नी ने अपने पति को बता दिया था कि उसने ये शादी मातापिता के दबाव में की है. और उसका शादी से पहले किसी के साथ प्रेम प्रसंग भी रहा है. युवक ने आगे अपनी बात रखते हुए कहा कि वह दिन रात सिर्फ इसी आस में रहता था कि एक दिन उसकी पत्नी इस रिश्ते को अपना लेगी लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ. जिसकी वजह से उसने पत्नी को समझाने के लिए परिवार परामर्श केंद्र में अपील की है. जहाँ अधिकारियों ने उसे अगली पेशी पर पेश होने के लिए कहा हैं.

वहीं गुजरात के अहमदाबाद में एक पति ने अपनी पत्नी को एड्स होने का हवाला देते हुए पारिवारिक कोर्ट में तलाक के लिए अपील की है. जिसमें उसने अपनी पत्नी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसके किसी और के साथ भी नाजायज सम्बन्ध हैं. जिस पर कोर्ट ने कहा कि एड्स सिर्फ किसी के साथ सम्बन्ध बनाने से नहीं होता है, इसके अन्य कारण  भी हो सकते हैं. इसके अलावा व्यक्ति अपनी पत्नी के खिलाफ सबूत पेश करने में भी असफल रहा. जिस वजह से कोर्ट ने तलाक के मामले को ख़ारिज कर दिया. जिसके बाद व्यक्ति ने हाईकोर्ट में तलाक के लिए पुनः अर्जी दी है.

Related Articles