आर्मी के बाद अब ITBP के जवानों ने किया चीन को हैरान, पैंगोंग झील के नए ठिकानों पर किया कब्ज़ा

742

पैंगोंग त्सो झील के दक्षिणी और उत्तरी किनारों पर भारतीय जवानों की मोर्चेबंदी जारी है. चीन एक जगह आगे बढ़ने की कोशिश करता है तो भारतीय जवान दूसरी तरफ से कब्ज़ा कर लेते हैं. भारतीय जवानों ने अब चीन को उसी भाषा में जवाब देते हुए कई मोर्चे खेल दिए है. आर्मी के जवानों के पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर स्थित ब्लैक टॉप और उत्तर किनारे के फिंगर 4 पर कब्ज़ा करने के बाद अब ITBP के जवानों ने चीन को झटका दिया है.

पैंगोंग त्सो झील के किनारे इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) के जवानों ने कुछ और नए और अहम मोर्चों पर झंडा गाड़ दिया. ये वो इलाके हैं जहाँ से चीन की गतिविधियाँ साफ़ साफ़ नज़र आ रही है. अब पूर्वी लद्दाख में LAC पर तैनात चीनी सैनिकों की हर हरकत अब ITBP के जवानों की नज़र में रहेगी.

नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक आईटीबीपी जवान फुरचुक ला पास से गुजरते हुए ब्लैक टॉप तक पहुंचे. फुरचुक ला पास 4,994 मीटर ऊंचाई पर स्थित है. अब तक आईटीबीपी की तैनाती सिर्फ पेंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर स्थित फिंगर 2 और फिंगर 3 एरिया के पास धान सिंह पोस्ट पर ही हुआ करती थी. ITBP सूत्रों का कहना है कि LAC पर कई चोटियाँ खाली थी जहाँ किसी भी देश की सेना नहीं थी. अब भारतीय जवानों ने वहां पहुँच कर मोर्चेबंदी कर ली है. अब तक अब हेलमेट टॉप, ब्लैक टॉप और येलो बंप पर आर्मी, आईटीबीपी और स्पेशल फ्रंटियर फोर्स (SFF) की मोर्चेबंदी हो गई है. यहाँ से चीनी सेना की गतिविधियाँ साफ़ साफ़ नज़र आ रही है.