इसरो ने रचा एक और इतिहास, कार्टोसैट-3 के साथ अमेरिका के 13 नैनो सैटेलाइट की एक साथ की गयी लॉन्चिंग

997


 
 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने बुधवार को एक बार फिर से इतिहास रचा. इसरो ने कार्टोसैट-3 (CARTOSAT-3) के साथ अमेरिका के 13 नैनो सैटेलाइट की एक साथ लॉन्चिंग की. श्री हरिकोटा में सतीश धवन स्पेस सेंटर से ठीक सुबह 9.28 मिनट पर इसे लांच किया गया. कार्टोसेट सेना के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित होने वाला है. PSLV-C-47 की यह 49वीं उड़ान है, जो कार्टोसैट-3 के साथ अमेरिका के कॉमर्शियल उद्देश्य वाले 13 छोटे सैटेलाइट को लेकर अंतरिक्ष में जाएगा. कार्टोसैट-3 का कैमरा इतना ताकतवर है कि वह अंतरिक्ष से जमीन पर 1 फीट से भी कम (9.84 इंच) की ऊंचाई तक की तस्वीर ले सकेगा. यह 509 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित कक्षा में 97.5 डिग्री पर स्थापित जाएगा.

सुबह 9.55 तक PSLV-C47 ने सफलतापूर्वक कार्टोसैट 3 अंतरिक्ष यान को कक्षा में स्‍थापित कर दिया. साथ ही अमेरिका के 13 वाणिज्यिक उपग्रह सफलतापूर्वक ऑर्बिट में स्‍थापित कर दिया गया. 

इस कैमरे के जरिए बेहद बारीक चीजों को भी स्पष्ट तौर पर देखा जा सकेगा. अब तो आप समझ ही गये होंगे कि ये सेटेलाइट कितनी महत्वपूर्ण है सेना के लिए!  

क्या है इस सेटेलाइट की खासियत
-पृथ्वी से 509 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्‍थापित किया जाएगा

-दुनिया का सबसे एडवांस और ताकतवर कैमरा लगा हुआ है.
-हाथ की घड़ी का समय तक देख लेगा कार्टोसैट- 3 सैटेलाइट.जमीन पर 0.25 मीटर (9.84इंच) की ऊंचाई तक की तस्‍वीर ले सकता है.

सीमाओं की निगरानी और आतंकी घुसपैठ को रोकने में मिलेगी मदद.
-मतलब इसका सीधा फायदा हमारी सेना और सुरक्षा एजंसियों को होने वाली है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसरो को इस उपलब्धि पर बधाई दी है. उन्होंने कहा, मैं इसरो टीम को बधाई देता हूं कि अभी तक पीएसएलवी-सी 47 का एक और सफल प्रक्षेपण स्वदेशी कार्टोसैट -3 उपग्रह और संयुक्त राज्य अमेरिका के एक दर्जन से अधिक नैनो उपग्रहों पर किया जा रहा है. उन्नत कार्टोसैट -3 हमारी उच्च संकल्प इमेजिंग क्षमता को बढ़ाएगा. इसरो ने एक बार फिर देश को गौरवान्वित किया है.
वहीँ इसरो के. प्रमुख के सिवन ने कार्टोसैट-3 के सफल प्रक्षेपण पर खुशी जताई है.

उन्होंने कहा है कि मुझे खुशी है कि पीएसएलवी-सी 47 ने 13 अन्य उपग्रहों के साथ सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित किया. उन्होंने आगे बताया कि कार्टोसैट-3 उच्चतम रिज़ॉल्यूशन वाला नागरिक उपग्रह है. साथ ही उन्होंने कहा कि हमारे पास मार्च तक 13 अंतरिक्ष मिशन हैं, जिनमें 6 बड़े वाहन मिशन और 7 सैटेलाइट मिशन शामिल हैं.