ये खिलाडी है IPL 2O20 में सबसे उम्रदराज, कोच से 10 साल है बड़ा

1311

IPL 2020 की ऑक्शन हो चुकी हैं, सभी 8 टीमों ने अपने कुछ खिलाड़ियों को रिटेन किया तो कई नए खिलाड़ियों को शामिल भी किया है. कुछ खिलाडी ऐसे भी हैं जिनपर बड़े दांव लगाये गये हैं, ऐसा ही एक नाम हैं प्रवीण तांबे, वो इस IPL सीजन के सबसे उम्रदराज क्रिकेटर और सबसे ज्यादा चर्चित भी हैं. प्रवीण तांबे को कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने गुरुवार को ऑक्शन में 13वें संस्करण के लिए खरीदा है.

और इस प्रकार से प्रवीण तांबे स्पिनर IPL 2020 के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन चुके हैं. प्रवीण को केकेआर की टीम ने हालाँकि सिर्फ 20 लाख की बेस प्राइस में एक अनुभवी स्पिनर के तौर पर टीम में रखा है. केकेआर के साथ जुड़े प्रवीण तांबे पहले ही अबतक इस टूर्नामेंट के सबसे सीनियर खिलाड़ी बने हुए थे.और ऐसे में एक बार फिर जब वह केकेआर की प्लेइंग XI में लिए गये हैं , तो वो एक बार फिरसे अपना ही पुराना रिकॉर्ड तोड़ देंगे.  

प्रवीण तांबे मूल रूप से महाराष्ट्र के निवासी हैं. उन्होंने 2013 में आईपीएल में अपना पहला डेब्यू मैच खेला था.. प्रवीण तांबे 48 साल के हो चुके हैं, मजे की बात तो यह है कि उनकी नयी टीम कोलकाता नाइटराइडर्स के मेन कोच ब्रैंडन मैकुलम की उम्र 38 वर्ष है. तो वहीँ प्रवीण तांबे ने अपने करियर की शुरुआत ही 40 से अधिक की उम्र में की थी. हैरानी की बात ये भी है कि तांबे ने 2013 तक किसी फर्स्ट क्लास टीम तक में कभी भी कोई बड़ा मैच नहीं खेला था. 2013 में भारतीय टीम के महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ की किसी तरह प्रवीण तांबे पर नज़र पड़ी और उन्होंने ही 2013 में उन्हें राजस्थान रॉयल्स की टीम में पहली बार मौका दिया था . उस वक्त प्रवीण तांबे की उम्र 41 साल थी.

इससे पहले तक वो आईपीएल में बतौर एक ऑफिसर काम करते थे. इतना ही नहीं जब उन्हें आईपीएल में मौका मिला तो उसके बाद उनको चैंपियंस लीग में खेलने का मौका भी मिला. जिसमें उन्होए सबसे अधिक विकेट भी चटकाए. चैंपियंस ट्रॉफी में जब उन्हें ख़ूब सफलता हासिल हुई तो बाद में 42 साल की उम्र में उन्हें पहली बार मुंबई की रणजी टीम में बतौर स्पिनर चुना गया.