विरोध प्रदर्शनों के बीच दिल्ली के कई इलाकों में इन्टरनेट, SMS और कालिंग सर्विस बंद

720

नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ वामपंथी पार्टियों और मुस्लिम संगठन आज सड़क पर हैं. राजधानी दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन जारी है. इसी बीच राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में इंटरनेट सर्विस बंद कर दी गई है. साथ ही कालिंग और एसएमएस सर्विस को भी सस्पेंड कर दिया गया है. भारती एयरटेल की तरफ से ये कदम उठाया गया है. कंपनी का कहना है कि उसे सरकार से ऐसे निर्देश मिले हैं. हालाँकि सरकार की तरफ से ऐसे किसी आदेश की पुष्टि नहीं की गई है. अगर सरकार औपचारिक ऐलान करती है तो दूसरी कम्पनियाँ भी कदम उठा सकती हैं.

सुबह 10 बजे के बाद से भारती एयरटेल ने इंटरनेट सर्विस को सस्पेंड करना शुरू कर दिया. सोशल मीडिया पर लोग शिकायत कर रहे हैं कि उन्हें एयरतेल की तरफ से इन्टरनेट की सुविधा नहीं मिल पा रही है. एसएमएस भी नहीं जा पा रहे हैं और लोग कॉल भी नहीं कर पा रहे. अक्सर इंटरनेट के माध्यम से अफवाहें फैलायी जाती है जिससे हिं’सा भड़क उठती है. ऐसी स्थिति मे प्रशासन हालत की गंभीरता को देखते हुए इंटरनेट बंद कर देती है.

दिल्ली से लेकर मुंबई, बैंगलोर और पटना तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं और किसी भी तरह के हंगामा से निपटने के लिए पुलिस पूरी तरह मुस्तैद है. देश के कई हिस्सों में धारा 144 लगाई गई है. दिल्ली के लाल किले इलाके में पुलिस ने धारा 144 लगाई है लेकिन फिर भी वहां बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी इकठ्ठा हुए हैं. सुरक्षा की दृष्टि से करीब 15 मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है. पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, ITO, प्रगति मैदान, खान मार्केट, केंद्रीय सचिवालय, लालकिला, जामा मस्जिद, चांदनी चौक, विश्वविद्यालय, जामिया मिलिया इस्लामिया, जसोला विहार, शाहीन बाग, मुनेरका स्टेशनों को बंद कर दिया गया है. इन मेट्रो स्टेशनों पर कोई भी मेट्रो नहीं रुक रही है.