संजय राउत ने किया ये बड़ा खुलासा, कहा इंदिरा गाँधी मिलती थी इस अंडरवर्ल्ड डॉन से…

783

महाराष्ट्र में कांग्रेस और शिवसेना मिलकर गठबंधन की सरकार चला रही है. लेकिन उसके बाद भी दोनो पार्टियों के बीच आयो दिन खींचतान देखने को मिल रही है. वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने एक ऐसा दावा किया है जिससे दोनों पार्टियों में तकरार बढ़ती दिख रही है. संजय राउत ने अंडरवर्ल्ड से नेताओं के कथित संबंधों को लेकर दिया एक बड़ा बयान दिया है. राउत ने खुलासा करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से मिलने जाया करती थीं. राउत के इस बयान को लेकर सियासी घमासान मच गया है.

संजय राउत पुणे में एक पुरस्कार समारोह के दौरान एक मीडिया समूह को दिए साक्षात्कार में कहा कि कभी “अंडरवर्ल्ड के लोग तय करते थे कि पुलिस कमिश्नर कौन बनेगा और मंत्रालय में कौन बैठेगा”. राउत ने इस दौरान आगे ये कहा कि पूर्व पीएम इंदिरा गांधी पायधुनी (दक्षिण मुंबई का इलाका) में करीम लाला से मिलने आती थीं. दरअसल, राउत ने यह भी दावा किया कि हाजी मस्तान के आने पर पूरा मंत्रालय उसे देखने के लिए नीचे आ जाता था.

इससे यही समझ में आ रहा है कि कांग्रेस पार्टी मोदी को सत्ता से हटाने के लिए किसी हद तक जा सकती है. हमेशा से कांग्रेस के उपर कई बार ऐसे आरोप लगते आऐं है. लोगो ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस ने अपना ज़मीर तक बेच लिया है सत्ता के मोह में.

अंडरवर्ल्ड की दुनिया को जानने वाले लोग बताते हैं कि भले ही हाजी मस्तान को मुंबई में अंडरवर्ल्ड का पहला डॉन माना जाता है लेकिन मुंबई का पहला माफिया डॉन करीम लाला ही था. करीम लाला का असली नाम अब्दुल करीम शेर खान था. वह अफगानिस्तान में पैदा हुआ था और पश्तून समुदाय से ताल्लुक रखता था. करीब 21 साल की आयु में वह भारत आया था.

शिवसेना ने पिछले साल महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन करके सरकार बनाई है.करीम लाला की बात करे तो 1960 के दशक से 1980 के दशक तक मुंबई में शराब की तस्करी, जुआ और जबरन वसूली रैकेट चलाने वाले डॉन करीम लाला की 2002 में मौत हो गई थी.

कांग्रेस भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए किसी भी पार्टी के साथ गठबधंन कर के सरकार बना लेती है.लेकिन इस बार यही काम शिवसेना सत्ता पाने के लिए ये काम किया है. शिवसेना ने सत्ता पर काबिज होने के लिए कांग्रेस के साथ हाँथ मिलाकर महाराष्ट्र में सरकार बना ली है. लेकिन अब वही शिवसेना कांग्रेस पार्टी की रोज़ एक पोल खोल रही है.