रेलवे का यात्रियों को बड़ा तोहफा, अब इस महत्वपूर्ण रूट पर भी चलने जा रही है तेजस एक्सप्रेस

38562

केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से भारतीय रेलवे की दशा हर दिन सुधरती जा रही है. केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल की अगुवाई में भारतीय रेलवे ने कामयाबी के बहुत झंडे गाड़े हैं. यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे हर दिन कोई ना कोई बड़ा फैसला ले रही है. अभी हाल ही में रेलवे ने महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई थी. वहीं भारतीय रेलवे की ट्रेन वंदे भारत ने भी एक साल में कई बड़े रिकॉर्ड बनाते हुए रेलवे को बंपर कमाई करवाई है.

जानकारी के लिए बता दें भारतीय रेलवे की तरफ से यात्रियों को एक बड़ी खुशखबरी आ रही है. इंदौर-वाराणसी के बीच चलाई गयी महाकाल एक्सप्रेस चलाने के बाद भारतीय रेलवे ने एक और बड़ा कदम उठाया है. जी हाँ अब एक और महत्वपूर्ण रूट पर तेजस ट्रेन चलने वाली है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को इसकी सैद्धांतिक मंजूरी भी दे दी है.

दरअसल उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से अनुरोध किया था, जिसके बाद नई दिल्ली से देहरादून वाया हरिद्वार के लिए तेजस ट्रेन चलाने की तैयारी शुरू हो गयी हैं. स्वदेशी तकनीकी से बनी तेजस ने देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी कामयाबी के झंडे गाड़े हैं. भारत में बनी इस सेमीहाईस्पीड ट्रेन को दुनियाभर के देशों ने काफी पसंद किया है.

गौरतलब है कि पीयूष गोयल ने तेजस को लेकर कहा कि “उत्तराखंड के रेल प्रोजेक्ट के लिए बजट की कमी आड़े नहीं आएगी. हरिद्वार में 2021 में पड़ने वाले कुंभ के मद्देनजर तीर्थयात्रियों की सुरक्षा और सुविधा के लिए रेलवे द्वारा पूरे प्रयास अभी से किए जा रहे हैं.” पीयूष गोयल ने त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात करने के बाद लालकुआं-खातिमा, टनकपुर-बागेश्वर और काशीपुर-धामपुर के बीच नई रेल लाइन बिछाने को भी मंजूरी दे दी है. भारतीय रेलवे की देशभर में 150 तेजस ट्रेनें चलाने की योजना है.