सरकार ने इन लोगों के लिए चलाई हैं स्पेशल ट्रेन, स्टेशन पर पहुंचने से पहले जरुर जान लें रेलवे का ये फरमान

कोरोना के हर दिन बढ़ रहे प्रकोप के चलते पूरे देश मे पीएम मोदी ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया था. लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया था. इसके बावजूद भी हालात नही सुध रहे जिसके बाद सरकार ने लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ाने का ऐलान किया है. इस महामारी से बचने के लिए सरकार के पास इसके अलावा अभी कोई विकल्प नही है. हालाँकि इस बार सरकार ने तीन जोन के हिसाब से लोगों को छूट दी है.

जानकारी के लिए बता दें केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 3 में बाहर फंसे हुए मजदूरों को निकालने के लिए स्पेशल श्रमिक ट्रेन चलाने की योजना को हर झंडी दी है जिससे अन्य राज्यों में फंसे लोग अपने घर पहुंच सके. ये ट्रेनें हर किसी व्यक्ति के लिए नही चलाई गयी हैं. अगर आप भी किसी अन्य राज्य में फंसे हैं और अपने गृह राज्य आना चाहते हैं तो आपके लिए बुरी खबर है क्योंकि सरकार ने अभी आम आदमी के लिए इस ट्रेन से लाने की व्यवस्था नही की है.

दरअसल रेलवे की तरफ से चलाई जा रही इन स्पेशल ट्रेनों में केवल प्रवासी मजदूरों को ही भेजा जौएगा जो लॉकडाउन के कारण अन्य राज्य में फंसे हुए थे और अपने गृह राज्य जाना चाहते हैं. गृह मंत्रालय ने रेल मंत्रालय द्वारा चलाई जाने वाली स्पेशल ट्रेनों से देशभर में विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों, विद्यार्थियों और अन्य व्यक्तियों की आवाजाही की अनुमति देने का निर्देश दिया था. जिसके बाद मंत्रालय इन लोगों की आवाजाही के लिए नोडल अधिकारी बनाये. इसके अलावा रेल मंत्रालय ने टिकटों की बिक्री के लिए प्लेटफार्मों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए विस्तृत दिशा निर्देश जारी किये.

गौरतलब है कि स्टेशनों पर पहुंचने वाले लोगों से रेलवे ने ट्वीट करते हुए अपील की है कि सभी लोग स्टेशन पर न आयें, सिर्फ वही लोग पहुंचे जो रजिस्टर्ड हैं और जिन्हें राज्य सरकार द्वारा घर जाने की अनुमति दी गयी है. इतना ही नहीं पश्चिम रेलवे की ओर से ट्वीट करते हुए अपील की गयी है कि ‘कृपया ध्यान दें -विशेष ट्रेनें राज्य सरकारों द्वारा रजिस्टर्ड तथा नामित व्यक्तियों के लिए ही प्लान की जा रही हैं. कोई भी व्यक्ति किसी भी कारण से रेलवे स्टेशनों पर नहीं आए. किसी को भी व्यक्तिगत रूप से रेल टिकट नहीं दिए जाएंगे और ना ही कोई व्यक्तिगत अनुरोध स्वीकार किया जाएगा.’

वहीँ एक अन्य ट्वीट के कहा गया है कि ’17 मई तक सभी मेल/एक्सप्रेस/सबर्बन आदि यात्री गाड़ियां निरस्त हैं. विभिन्न स्थानों पर रुके श्रमिकों,स्टुडेंट,श्रद्धालुओं आदि के लिए विशेष ट्रेनें राज्य सरकारों के अनुरोध पर, केवल उनके द्वारा रजिस्टर/नामित लोगों के लिए ही प्लान होंगी.अतः राज्य सरकारों के नोडल अधिकारी से संपर्क करें.