ICC अवॉर्डस में भी भारतीय टीम का दबदबा कायम, जानिऐ किसको मिला कौन सा अवॉर्ड

1264

इंटरनैशनल क्रिकेट कांउसिल  ने बुधवार को आईसीसी अवॉर्ड का ऐलान किया कर दिया है. इसमें भारतीय टीम के दो खिलाड़ी जो इस समय अपने क्रिकेट करियर के सबसे बेहतरीन दौर से गुज़र रहें है. बात करते है भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान रोहित शर्मा सहित कई भारतीय क्रिकेटरों को अहम अवॉर्ड मिला है. भारतीय टीम के उपकप्तान औऱ ओपनर रोहित शर्मा का दबदबा रहा. रोहित के लिए साल 2019  किसी गोल्डन इयर से कम नहीं है. वर्ल्ड कप में हिटमैन जहां पांच शतक के साथ हाईर्एस्ट रन स्कोरर बने, वहीं साल के अंत में रोहित से ज्यादा रन किसी ने नहीं बनाए.

2019 में अपने जोरदार प्रदर्शन के लिए भारतीय टीम के बल्लेबाज रोहित शर्मा का दबदबा आसीसी अवॉर्ड में भी अपना जलवा बिखेरते हुए नजर आये. रोहित शर्मा को आसीसी ने वनडे क्रिकेटर ऑफ द इयर चुना है, जबकि टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज पैट कमिंस इस अवॉर्ड पर अपना कबजा बनाने में कामयाब हुए है. यह अवॉर्ड पैट कमिंस के नाम गया है. बता दें कि रोहित शर्मा ने इंग्लैंड में खेले गए वनडे वर्ल्ड कप में रेकॉर्ड 5 सेंचुरी की बदौलत 9 मैचों में 648 रन बनाए थे, जबकि पूरे साल की बात करें तो उनके नाम 28 मैचों में 1490 रन थे.

अब बात करते है भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को खेल भावना दिखाने के लिए “स्पिरिट ऑफ द इयर” अवॉर्ड दिया गया. इसी को लेकर आसीसी ने विराट कोहली को तालियां बजवाने के लिए ये अवॉर्ड दिया है. दरअसल, मैच में कप्तान कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे। उस वक्त स्मिथ बाउंड्री के पास फील्डिंग कर कर रहे थे। वहां मौजूद दर्शकों ने स्मिथ को चिढ़ाना शुरू कर दिया.

विराट कोहली को दर्शकों का यह व्यवहार पसंद नहीं आया, उन्होंने इशारों से इस पर नाराजगी जताते हुए दर्शकों से स्मिथ की हौसलाअफजाई करने को कहा.कोहली ने दर्शकों से कहा कि वे स्मिथ के लिए ताली बजाएं. आपको बता दें कि स्मिथ और डेविड वॉर्नर को 2018 में बॉल टैंपरिंग के आरोप सिद्ध होने के बाद एक साल इंटरनैशनल क्रिकेट खेलने के लिए बैन कर दिया था.