भारत-चीन सीमा पर 44 सड़कों का निर्माण करेगी मोदी सरकार

284

मोदी सरकार ने एक ऐसा कदम उठाया है..जिससे चीन और पाकिस्तान की सीमा पर पहुचना सेना के लिए बेहद ही असान हो जाएगा ,बिलकुल सही सुना आपने मोदी सरकार ने भारत से सटी चीन की सीमओं पर 44 सड़क बनाने का और पाकिस्तान से सटे पंजाब एवं राजस्थान में भी करीब 2100 किलोमीटर की सड़कों को बनाने का फैसला लिया है .केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) ने साल (2018-19)की बार्षिक रिपोर्ट को इसी महीने जारी कर के बताया है, इससे देश के साथ साथ सेना को भी बहुत बड़ा फ़ायदा होगा,गहमागहमी की स्थिति में सेना आसानी से सीमओं के पास पहुच सकती है. आपको ये भी बता दें कि सीपीडब्ल्यूडी की यह रिपोर्ट ऐसे समय पर जारी की है ,जब चीन भारत के साथ लगने वाली उसकी सीमाओं की नई परियोजनओं को प्राथमिकता दे रहा है.


सरकार के इस फैसले के पीछे एक खास वजह ये भी हो सकती है पिछले साल डोकलाम में चीन के सड़क बनाने का काम शुरू किया था उसके बाद दोनों देशों के सैनिकों में युद्ध की स्थिति पैदा गयी थी.आपको ये भी बता दे की भारत-चीन के सड़क प्रोजेक्ट की लागत करीब करीब 21,000 करोड़ रुपये है और वही भारत-पाकिस्तान सीमा और राजस्थान एवं पंजाब में 5,400 करोड़ रुपये की लागत से 2100 किलोमीटर की सड़कों को बनाया जायेगा .

सीपीडब्ल्यूडी ने अपनी रिपोर्ट में ये भी बतया कि भारत-चीन सीमा से लगते और अन्य पांच राज्यों जैसे की जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम एवं अरुणाचल प्रदेश में सड़कों के निर्माण का काम दिया गया है. सुरक्षा की नजर से ये काफी महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है हमारे देश के लिए इससे हमारी देश की सेना को बहुत लाभ मिलने वाला है ,और अगर हमारी सेना मजबूत होगी तभी हम और आप सुरक्षित होंगे