भारतीय सेना ने दिया इमरान खान को जवाब, कहा धमकियों से नही डरते

1038

सेना के पूर्वी प्रमुख कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एम एम नरवाने ने मंगलवार को पाकिस्तान और चीन को साफ़ संदेश दे दिया है. उन्होंने कहा है की पाकिस्तान परमाणु युद्ध की धमकी देता रहे, भारत उसकी किसी भी धमकियों से नही डरता. नारवाने ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की उस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी थी जो उन्होंने सोमवार को देश के नाम संबोधन में दोनों देशों की परमाणु क्षमताओं को लेकर की थी.

पूर्वी प्रमुख कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल नारवाने ने कहा की चीन को समझना चाहिए कि भारतीय सेना वैसी नहीं रही जैसी 1962 में चीन-भारत युद्ध के समय में थी. जब पूर्व वायु सेना प्रमुख और चैंबर की रक्षा उप समिति के सदस्य अरूप राहा ने 1962 के युद्ध से मिले सबक और उसके बाद की समस्याओं से निपटने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में पूछा, तो नरवाने ने कहा की हम अब 1962 वाली सेना नहीं हैं. चीन अगर कहता है कि इतिहास मत भूलो तो हमें भी उन्हें यही बात कहनी है. उन्होंने कहा कि भारत 1962 से बहुत आगे निकल चूका है. लेफ्टिनेंट जनरल नरवाने ने कोलकाता में भारत चैंबर आफ कॉमर्स में ‘डिफेंडिंग आवर बार्डर्स’ विषय पर चर्चा के दौरान कहा की वो परमाणु धमकियाँ देनी चालू रखें, भारत एसी धमकियों से नही डरता. भारतीय सुरक्षा बल और सशस्त्र बल किसी भी दुश्मन का मुकाबला करने में सक्षम है.

निरावाने ने एलसी पर चीन के उल्लघन के मामले बढ़ने के बारे में कहा कि अगर हम कहे की चीन विवादित क्षेत्र में 100 दफा आ चुका है तो हम भी 200 बार वहां गए हैं. तो एसा न सोचे की ये एकतरफा है. 1962 के युद्ध के बारे में जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यह भारत की सेना की नहीं बल्कि राजनीतिक हार थी क्योंकि सेना की सभी यूनिट्स डटकर लड़ी थी. जब भारतीय सेना की यूनिट्स को डटकर लड़ने को कहा गया तो उन्होंने पूरे सम्मान के साथ खुद को पेश कर दिया. कश्मीर से 370 हटाए जाने के बाद से ही बेचेन पाकिस्तान लगातार युद्ध की धमकियाँ दे रहा है, लेकिन अब भारतीय सेना ने भी उन्हें जवाब देते हुए साफ़ कर दिया है वो धमकियों से नही डरता और भारतीय सेना किसी भी दुश्मन का मुकाबला कर सकती है.