क्या वायुसेना चीफ की प्रेस वार्ता से थमेगी एयरस्ट्राइक राजनीति पर ?

321

पाकिस्तान में घुसकर की गई वायुसेना की एयरस्ट्राइक पर विपक्ष की ओर से मोदी सरकार से लगातार सबूत मांगे जा रहे थे…  ऐसे में अब कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट कर कहा, ‘क्या वहां 300 आतंकी मारे गए हैं या नहीं? अगर नहीं तो इसका क्या मकसद था? क्या सिर्फ पेड़ उखाड़ने ही गए थे. क्या ये सिर्फ एक चुनावी नौटंकी थी.’ उन्होंने लिखा कि सेना का राजनीतिकरण करना बंद करिए, जितना देश पवित्र है उतनी ही सेना भी पवित्र है. ऊंची दुकान, फीका पकवान.. इन सबके बीच वायुसेना चीफ एयर मार्शल बीएस धनोआ ने सोमवार को प्रेस कॉफ्रेंस करके पाकिस्तान पर की गई एयर स्ट्राइक से जुड़े हर सवाल का बेबाकी से जवाब दिया… धनोआ ने कहा कि airforce का काम अपने टारगेट को हिट करना है… हम ये नहीं गिनते कि वहां कितना नुकसान हुआ है… उन्होंने कहा कि हमें जो भी टारगेट मिलता है हम सिर्फ उसे ही तबाह करते हैं…एयर मार्शल की प्रेस कॉफ्रेंस से विपक्ष को क्या सारे सवालों का जवाब मिल गया है?

वायुसेना प्रमुख की ओर से आए इस बयान के बाद एक बार फिर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के उस दावे पर सवाल उठने लगे हैं, जिसमें उन्होंने कहा है कि ऑपरेशन बालाकोट में कम से कम 250 आतंकी मारे गए हैं…इसे लेकर विपक्षी दलों के तमाम नेताओं और कुछ जर्नलिस्ट के द्वारा कहा जा रहा है कि एयर स्ट्राइक में सिर्फ जंगल में बम गिराए गए हैं ..पाकिस्तान को कोई खास नुकसान नहीं हुआ है... इन सारे सवालों पर वायुसेना चीफ एयर मार्शल बीएस धनोआ ने कहा कि अगर हमारे टारगेट सही नहीं लगे हैं और सिर्फ जंगल में बम गिराए होते तो पाकिस्तान की ओर से जवाब क्यों आता?

जब उनसे पूछा गया कि मिग-21 का इस्तेमाल ही क्यों? तो  इस सवाल का जवाब भी एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने दिया.भारत ने पाकिस्तान के F-16 का जवाब देने के लिए मिग-21 का इस्तेमाल क्यों किया, है. उन्होंने कहा है कि मिग-21 बाइसन ऐसे हमले करने में सक्षम है. उन्होंने बताया कि मिग-21 एक अच्छा और लड़ाकू विमान है.

और आगे जानकारी दी कि इस एयरक्राफ्ट को अपग्रेड किया गया है… एयरक्राफ्ट में अच्छे रडार लगाए गये हैं… इसके अलावा ये फाइटर एयरक्राफ्ट एयर टू एयर मिसाइल छोड़ने में भी सक्षम है.. उन्होंने कहा कि मिग-21 के पास अब बेहतर मारक क्षमता है...वैसे सबूत के तौर पर एयरफोर्स पहले ही उस मिसाइल का टुकड़ा दिखा चुकी है जो सिर्फ f16 में ही लग सकती थी ..

उसके बाद आज सुबह ही पाकिस्तान के एक पत्रकार ने अपने ही सरकार के झूठ की पोल खोल दी है.पाकिस्तान कहता रहा है कि 27 फरवरी को उसने भारतीय सीमा में घुसपैठ के लिए अमेरिका में बने फाइटर जेट F-16 का इस्तेमाल नहीं किया था. लेकिन पाकिस्तान के जाने-माने पत्रकार तहा सिद्दीकी ने पाक सेना में अपने सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि इस ऑपरेशन में पाक सेना ने F-16 का इस्तेमाल किया था. उन्होंने ट्वीट कर कहा, “मेरे सूत्र बताते हैं कि भारत के खिलाफ ऑपरेशन में F-16 का इस्तेमाल किया गया था…अब इस प्रेस कांफ्रेंस के बाद सबको उनके जवाव मिल गये है ..चाहे वो कांग्रेस से हो या बीजेपी से ..किसी भी राजनितिक पार्टी को सेना पर सवाल उठाने का अधिकार नहीं है …